S M L

चार्जशीट दाखिल होने के 6 घंटे के भीतर ही कोर्ट ने रेप दोषी को सुनाई सजा

सोमवार सुबह पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की और करीब 6 घंटे में ही फैसला सुना दिया गया, संभवतः ये देश का पहला मामला होगा, जहां घटना के मात्र छह दिन के बाद ही फैसला आ गया हो

Updated On: Aug 21, 2018 04:54 PM IST

FP Staff

0
चार्जशीट दाखिल होने के 6 घंटे के भीतर ही कोर्ट ने रेप दोषी को सुनाई सजा
Loading...

मध्य प्रदेश के उज्जैन में छह दिन पहले की घटना में रेप के 14 साल के आरोपी को चार्जशीट दाखिल होने के छह घंटे में ही सजा सुना दी गई. उज्जैन के पास घट्टिया में 6 दिन पूर्व नाबालिग आरोपी ने चार वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था, जिसके बाद पुलिस ने नाबालिग आरोपी को राजस्थान से पकड़कर उज्जैन पुलिस के किशोर न्याय बोर्ड में पेश किया था.

सोमवार सुबह पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की और करीब 6 घंटे में ही फैसला सुना दिया गया. बताया जा रहा है कि संभवतः ये देश का पहला मामला होगा, जहां घटना के मात्र छह दिन और चार्जशीट दाखिल होने के 6 घंटे बाद ही फैसला आ गया हो. रेप करने वाले 14 साल के किशोर को दो साल के लिए जुवेनाइल होम, सिवनी भेजने का आदेश दिया गया.

घटना छह दिन पहले की है. उज्जैन जिले के घट्टिया के ग्राम जलवा में रहने वाली 4 साल की बालिका से 15 अगस्त को गांव के ही किशोर ने घर बुलाकर उसके साथ रेप किया था. इस मामले में घट्टिया थाने में किशोर के खिलाफ धारा 376 व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था. घटना के बाद किशोर भागकर राजस्थान के चौमहला में अपने रिश्तेदार के यहां चला गया था. अगले दिन पुलिस टीम ने वहां पहुंचकर उसे पकड़ लिया.

पुलिस ने बच्ची और किशोर का मेडिकल कराया, जिसमें बच्ची से रेप की पुष्टि हुई. इसके बाद सोमवार सुबह 11.15 बजे मालनवासा स्थित किशोर न्याय बोर्ड (जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड) में चार्जशीट दाखिल की गई. जस्टिस तृप्ति पांडे ने तत्काल सुनवाई शुरू करते हुए गवाहों, अन्य सबूतों, मेडिकल और डीएनए रिपोर्ट के आधार पर बोर्ड ने किशोर को दोषी पाया और शाम 5.15 बजे फैसला सुना दिया. जस्टिस ने फैसला सुनाते हुए किशोर को जुवेनाइल होम भेजने का आदेश भी दिया.

(न्यूज-18 के लिए आनंद निगम की रिपोर्ट)

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi