S M L

दोबारा वियतनाम में क्यों जन्म लेना चाहते थे जॉर्ज फर्नांडिस?

करीब 15 साल पहले एक कार्यक्रम में फर्नांडिस ने कहा था, अगर पुनर्जन्म जैसी कोई चीज है, तो मैं वियतनाम में जन्म लेना चाहूंगा

Updated On: Jan 29, 2019 12:47 PM IST

Bhasha

0
दोबारा वियतनाम में क्यों जन्म लेना चाहते थे जॉर्ज फर्नांडिस?

लंबी बीमारी के बाद 88 साल की उम्र में पूर्व रक्षा मंत्री और देश के बड़े मजदूर नेता जॉर्ज फर्नांडिस का निधन हो गया. वे 88 साल के थे. एक बार उन्होंने कहा था, ‘अगर पुनर्जन्म (Rebirth) जैसी कोई चीज है तो मैं दोबारा वियतनाम में जन्म लेना चाहूंगा.’

बेंगलुरु में करीब 15 वर्ष पहले जब जॉर्ज अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में रक्षा मंत्री थे तब ‘कर्नाटक प्लांटर्स एसोसिएशन’ के वार्षिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए फर्नांडिस ने वियतनाम के लोगों को अनुशासित, प्रतिबद्ध और दृढ़ संकल्पी बताया था.

उन्होंने कहा था कि वियतनाम का दुनिया के कॉफी बाजार में बड़ा हिस्सा है. उन्होंने कहा था, ‘मुझे इससे कोई ईर्ष्या नहीं है. मैं वियतनाम का प्रशंसक हूं और तेज प्रगति के लिए दक्षिण पूर्व एशियाई देश और उसके लोगों की प्रशंसा करता हूं.’

फर्नांडिस ने कहा था, ‘अगर पुनर्जन्म जैसी कोई चीज है, तो मैं वियतनाम में जन्म लेना चाहूंगा. वे अपनी प्रतिबद्धताओं के लिए जान न्योछावर करने को तत्पर रहते हैं.’ वियतनाम का दौरा करने वाले फर्नांडिस भारत के पहले रक्षा मंत्री थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi