In association with
S M L

जब कुलभूषण जाधव की मां ने पाक की साजिश को नाकाम कर दिया

मुलाकात के दौरान जाधव ने दोनों का अजीब तरीके से अभिवादन किया था. वो पाकिस्तान द्वारा उन पर लगाए गए आरोपों को कबूलते हुए लग रहे थे

FP Staff Updated On: Dec 28, 2017 12:02 PM IST

0
जब कुलभूषण जाधव की मां ने पाक की साजिश को नाकाम कर दिया

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मां अवंति जाधव की समझदारी ने पाकिस्तान के नापाक इरादों पर पानी फेर दिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार सोमवार को पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में कुलभूषण जाधव से हुई अपनी मुलाकात में अवंति जाधव ने यह साहसिक कारनामा किया. मां और पत्नी चेतना से भेंट के दौरान कुलभूषण जाधव जब पाकिस्तान की तरफ से दाखिल की गई चार्जशीट का जिक्र कर रहे थे, तो अवंति जाधव ने नाराज होकर बीच में उन्हें रोका और कहा कि 'तुम ऐसा क्यों कह रहे हो? तुम तो ईरान में व्यापार कर रहे थे, जहां से तुम्हारा अपहरण कर लिया गया. तुम्हें सच बताना चाहिए.'

मुलाकात के दौरान जाधव ने दोनों का अजीब तरीके से अभिवादन किया था. वो पाकिस्तान द्वारा उन पर लगाए गए आरोपों को कबूलते हुए लग रहे थे. लगा रहा था मानो कुलभूषण पाकिस्तान के इशारे और दबाव में ऐसा बोल रहे हों. भारत शुरू से इन आरोपों का विरोध कर रहा है.

कुलभूषण जाधव की मां अवंति जाधव और उनकी पत्नी चेतना जाधव ने इस्लामाबाद जाकर शीशे की दीवार लगे कमरे में उनसे मुलाकात की थी

कुलभूषण जाधव की मां अवंति जाधव और उनकी पत्नी चेतना जाधव ने इस्लामाबाद जाकर शीशे की दीवार लगे कमरे में उनसे मुलाकात की थी

बेटे को पाकिस्तान आर्मी और ISI की दी गई स्क्रिप्ट न पढ़ने को कहा 

22 महीने की कैद के बाद परिवार को देखने और मिलने के बाद जैसी प्रतिक्रिया होनी चाहिए थी, कुलभूषण की वैसी नहीं थी. उनके बदले हुए व्यवहार पर मां अवंति जाधव यकीन नहीं कर पा रही थीं. पाकिस्तानी अधिकारियों की दबाव भरी निगरानी के बावजूद 70 साल की अवंति ने अपने बेटे को कहा कि वो पाकिस्तान आर्मी और आईएसआई की दी गई स्क्रिप्ट न पढ़े.

अवंति की हिम्मत और साहस ने पाकिस्तानी अधिकारियों के उन इरादों पर पानी फेर दिया है जो कुलभूषण जाधव के अपनी मां और पत्नी के सामने 'कबूलनामे' की रिकॉर्डिंग को भारत और उनके खिलाफ मजबूती से पेश करने की साजिश रच रहे थे.

पाकिस्तान ने शुरू में सिर्फ कुलभूषण जाधव की पत्नी चेतना को ही वीजा दिया था, लेकिन भारत के दबाव के चलते उनकी मां को भी वीजा जारी किया गया.  भारत को इस बात की आशंका है कि पाकिस्तान कुलभूषण और उनकी मां और पत्नी के बीच हुई बातचीत के सबूत के साथ छेड़छाड़ कर सकता है, हालांकि भारत के लिए यह राहत की बात है कि अवंति की सूझबूझ और हिम्मत से पाकिस्तान की योजना पर पानी फिर गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गणतंंत्र दिवस पर बेटियां दिखाएंगी कमाल!

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi