S M L

यौन उत्पीड़न के मामलों को हम गंभीरता से लेते हैं : प्रसार भारती सीईओ

तीनों महिलाओं में से एक ने दावा किया कि आईसीसी में शिकायत करने के बाद से पिछले आठ महीने से उसे तनख्वाह नहीं मिली

Updated On: Dec 29, 2018 10:28 PM IST

Bhasha

0
यौन उत्पीड़न के मामलों को हम गंभीरता से लेते हैं : प्रसार भारती सीईओ

प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने शनिवार को कहा कि दूरदर्शन यौन उत्पीड़न के मामलों को ‘अत्यंत गंभीरता’ से लेता है और अनुशासनात्मक नियमों के तहत कड़ी कार्रवाई की जाती है. एक दिन पहले ही लोक प्रसारक की तीन महिला कर्मचारियों ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था.

महिलाओं ने दावा किया कि उनके अनुबंध को नवीनीकृत करने के बहाने उनका यौन उत्पीड़न किया गया. महिलाएं अनुबंध पर कार्यरत कर्मचारी हैं. हालांकि उन्होंने उत्पीड़न की घटना के बारे में विस्तार से नहीं बताया.

शेखर ने ट्वीट किया, ‘दूरदर्शन के बेहद सक्षम महानिदेशक (डीजी) दूरदर्शन का नेतृत्व करते हैं. हमलोग इस तरह की प्रकृति वाले मामलों को बेहद गंभीरता से लेते हैं और कानून/अनुशासनात्मक नियमों के मुताबिक कड़ी कार्रवाई की जाती है.’

पीड़ितों को परामर्श दे रहीं वकील वरुणा भंडारी ने शुक्रवार को बताया कि दूरदर्शन से सात और ऐसी महिला कर्मियों ने उनसे संपर्क किया, जिनके साथ कार्यस्थल पर कथित यौन उत्पीड़न हुआ.

भंडारी ने दावा किया, ‘यौन उत्पीड़न की शिकायतों के 10 में से नौ मामलों पर आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) ध्यान नहीं देती.’

तीनों महिलाओं में से एक ने दावा किया कि आईसीसी में शिकायत करने के बाद से पिछले आठ महीने से उसे तनख्वाह नहीं मिली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi