S M L

WBJEE 2018: नतीजे घोषित, काउंसलिंग-कटऑफ ऐसे जानें

जब उम्मीदवार एडमिशन के लिए कॉलेजों का चयन कर रहा हो तो उसे साथ के साथ उन कॉलेजों में उसके पसंद के डिसिप्लिन में एडमिशन के लिए न्यूनतम अंकों की आवश्यकता के बारे में भी पता लगाते रहना चाहिए

Manashjyothi Hazarika Updated On: May 23, 2018 03:53 PM IST

0
WBJEE 2018: नतीजे घोषित, काउंसलिंग-कटऑफ ऐसे जानें

वेस्ट बंगाल जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन बोर्ड (WBJEEB) ने WBJEE 2018 के परिणाम जारी कर दिए हैं. WBJEE 2018 के परिणाम केवल ऑनलाइन मोड में जारी किए जाएंगे. परिणाम देखने के लिए उम्मीदवारों को रिजल्ट पोर्टल पर लॉग इन करना पड़ेगा. लॉग इन करने के लिए उम्मीदवारों को पोर्टल पर अपने लॉग इन से संबंधित जानकारी विस्तार से डालनी पड़ेगी.

उम्मीदवारों के द्वारा प्राप्त अंक और रैंक कार्ड भी उम्मीदवारों को उपलब्ध कराया जाएगा. इस रैंक के आधार पर ही WBJEE से जुड़े संस्थान मेरिट लिस्ट जारी करेंगे और उसी के आधार पर काउंसलिंग के बाद सीट आवंटित की जाएगी. WBJEE एक राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा है और इस बार 2018 में ये परीक्षा 22 अप्रैल को ऑफलाइन यानी की पेन पेपर मोड में आयोजित की गई थी. इस परीक्षा में इस बार 1.27 लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था.

चार घंटे की परीक्षा में तीन विषयों- फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स से बहु विकल्पीय प्रश्न पूछे गए थे. सबसे ज्यादा सवाल मैथ्स से पूछे गए थे जबकि फिजिक्स और केमिस्ट्री से पूछे जाने वाले सवालों की संख्या समान थी. मैथ्स से 75 सवाल, फिजिक्स और केमिस्ट्री से 40-40 सवाल पूछे गए थे. WBJEE 2018 में इसबार प्रश्नों के लिए कुल 200 अंक निर्धारित किए गए थे.

महत्वपूर्ण तारीख

इवेंट तारीख

परीक्षा परिणाम जारी होने की तारीख-

5, जून, 2018

काउंसलिंग-

जुलाई के दूसरे-तीसरे सप्ताह में संभावित

 अपने परीक्षा परिणाम की जानकारी कैसे प्राप्त करें?

परीक्षा परिणाम की जानकारी के लिए उम्मीदवारों को WBJEE की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर लॉग इन करना पड़ेगा. आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर निम्नलिखित चरणों का अनुसरण करें

इस लिंक पर जाकर https://wbjeeb.nic.in/webinfoexam/public/home.aspx परिणाम पर क्लिक करें.

रिजल्ट पोर्टल पर जाकर लॉग इन करें. लॉग इन करने के लिए WBJEE 2018 की अपनी आवेदन संख्या और पासवर्ड का इस्तेमाल करें.

सफलतापूर्वक लॉग इन कर लेने के बाद कंप्यूटर स्क्रीन पर परीक्षा परिणाम नजर आने लगेगा.

उम्मीदवारों को WBJEE के परीक्षा परिणाम को डाउनलोड करके उनका प्रिंटआउट निश्चित रूप से ले लेना चाहिए. ये परिणाम रैंक कार्ड के रूप में उपलब्ध रहते हैं.

रैंक कार्ड (रिजल्ट शीट) पर मौजूद रहने वाली जानकारियां

उम्मीदवार का नाम और लिंग

जन्मतिथि

वर्ग

डोमिसाइल

रोल और आवेदन संख्या

प्रवेश परीक्षा में प्राप्त रैंक

कुल प्राप्त अंक

मैथ्स,फिजिक्स और केमिस्ट्री में विषयवार प्राप्त अंक

रैंक कार्ड खो गया? ऐसे में उम्मीदवारों को क्या करना चाहिए?

उम्मीदवारों से ये अपेक्षा की जाती है कि वो अपने रैंक कार्ड्स को सुरक्षित रखें, लेकिन कई बार परिस्थितिवश रैंक कार्ड खो जाता है. अगर किसी उम्मीदवार के साथ ऐसा हो तो उन्हें 31 जुलाई 2018 से पहले बोर्ड के पास इसके संबंध में आवेदन करना चाहिए. आवेदन के साथ 500 रुपए का शुल्क भी निर्धारित किया गया है जिसे डिमांड ड्राफ्ट के रूप में, वेस्ट बंगाल जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन बोर्ड के पक्ष में और कोलकाता में देय होना चाहिए.

परीक्षा परिणाम के बाद क्या?

परीक्षा परिणाम के आधार पर प्रवेश व्यवस्था से जुड़े अधिकारी वर्गवार मेरिट लिस्ट तैयार करते हैं. इस लिस्ट के मुताबिक ही उम्मीदवारों को काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है और उसके बाद उन्हें सीट आवंटित किया जाता है. इस बार काउंसलिंग ऑनलाइन मोड में आयोजित की जाएगी.

अनुमान है कि WBJEE 2018 की काउंसलिंग जून के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जाएगी. उम्मीदवार इस बात का खास तौर पर ध्यान रखें कि काउंसलिंग के रजिस्ट्रेशन के लिए उन्हें केवल एक मौका दिया जाएगा. यह मौका भी उन्हें पहली राउंड की काउंसलिंग से पहले ही मिलेगा. काउंसलिंग के कुल तीन राउंड आयोजित किए जाएंगे.

परीक्षा परिणाम के बाद काउंसलिंग निम्नलिखित चरणों में आयोजित की जाएगी

रजिस्ट्रेशन: उम्मीदवार काउंसलिंग के लिए WBJEE या JEE मेन स्कोर या फिर दोनों के अंकों के आधार पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते है. अगर उम्मीदवार दोनों में से किसी भी एक विकल्प का चयन करते हैं तो उन्हें अपनी उस परीक्षा से संबंधित सभी जानकारी मुहैया करनी पड़ेगी, इसके लिए उन्हें उस परीक्षा का आवेदन नंबर, रोल नंबर, नाम और जन्मतिथि बताना पड़ेगा. अगर उम्मीदवार दोनों परीक्षाओं के माध्यम से अप्लाई करना चाहता है तो उसे दोनों परीक्षाओं के बारे में विस्तृत जानकारी देनी पड़ेगी.

काउंसलिंग फी का भुगतान: उम्मीदवारों के सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन कर लेने के बाद उन्हें काउंसलिंग फी के रूप में निर्धारित किए गए 500 रुपए के भुगतान के लिए आगे बढ़ना होगा. ये फी किसी भी सूरत में वापस नहीं ली जा सकेगी और ये फीस सभी उम्मीदवारों के लिए देय है. ये फी ऑनलाइन बैंकिंग या फिर क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के माध्यम से भी दिया जा सकता है. इसके अलावा ऑफलाइन पेमेंट भी स्वीकार किए जाएंगे बशर्ते इसे इलाहबाद बैंक के ई-चालान के माध्यम से पेश किया जाए.

अपने मनपसंद कॉलेज/प्रोग्राम्स का चयन और लॉकिंग: उम्मीदवारों को इसके बाद उपलब्ध विकल्पों के आधार पर कॉलेज और प्रोग्राम्स को चुनना पड़ेगा. उम्मीदवारों को ये सलाह दी जाती है कि वो जितना संभव हो सके वो ज्यादा से ज्यादा अपनी पसंद के विकल्पों का चयन करें जिससे की उन्हें एडमिशन मिलने की सम्भावना बढ़ सके. अपने पसंद के अनुसार सभी चीजें भरने के बाद उम्मीदवारों को ये सलाह दी जाती है कि वो उसे लॉक कर दें अन्यथा उनका अंतिम सेव किया हुआ चयन ही उनका अंतिम पसंद मान लिया जाएगा.

सीट आवंटन: सीटों के आवंटन का आधार उम्मीदवारों के द्वारा प्राप्त किया गया मेरिट और उनके द्वारा चयन किया गया विकल्प होगा. ऐसे में जबकि काउंसलिंग का आयोजन ऑनलाइन हो रहा है उम्मीदवारों को चाहिए की वो अपने व्यक्तिगत लॉग इन अकाउंट से लॉग इन करें और सीट आवंटन से सम्बंधित सभी जानकारी प्राप्त करें.

सही कॉलेज का चयन

काउंसलिंग के समय उम्मीदवारों को उनके पसंद के कॉलेज को चुनना होता है ऐसे में उम्मीदवारों को ये सलाह दी जाती है कि वो पश्चिम बंगाल के सभी टॉप इंजीनियरिंग के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करके रखें. इससे कम से कम ये तो संभव हो सकेगा की अगर उम्मीदवार को अच्छे कॉलेज मिल रहे हों तो उसके बाद भी उन्हें लो रैंकिंग संस्थानों में एडमिशन लेने के लिए बाध्य नहीं होना पड़ेगा.

नीचे राज्य के कुछ टॉप रैंकिंग वाले इंजीनियरिंग कॉलेजों की एक सूची दी जा रही है. इन इंजीनियरिंग कॉलेजों में WBJEE 2018 के आधार पर दाखिला मिल सकेगा.

जादवपुर यूनिवर्सिटी, कोलकाता

इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट, कोलकाता

बंगाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, कोलकाता

बिधान चंद्र कृषि विश्विद्यालय, नदिया

कल्याणी गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज, नदिया

कटऑफ की जांच और एडमिशन की संभावना

जब उम्मीदवार एडमिशन के लिए कॉलेजों का चयन कर रहा हो तो उसे साथ के साथ उन कॉलेजों में उसके पसंद के डिसिप्लिन में एडमिशन के लिए न्यूनतम अंकों की आवश्यकता के बारे में भी पता लगाते रहना चाहिए. इससे उनके पसंद का डिसिप्लिन और कॉलेज चुनने में काफी पसंद मिलेगी. सामान्य रूप से ऊंचे रैंकिंग वाले कॉलेजों में कटऑफ भी ऊंचा रहता है जैसे कि जादवपुर यूनिवर्सिटी में, उसी तरह से अगर आप सबसे लोकप्रिय कंप्यूटर साइंस डिसिप्लिन में जाएंगे तो पाएंगे कि इसका भी कटऑफ काफी ऊंचा रहता है.

2017 में जादवपुर यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस में एडमिशन के लिए ओपन केटेगरी का कटऑफ 153 था. WBJEE में कटऑफ केटेगरी आधारित होता है ऐसे में उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि जब वो कटऑफ टेबल्स पर नजर डालें तो इस विषय का भी ख्याल रखें.

(इस खबर से जुड़ी कोई जानकारी प्राप्त करने या सवालों के जवाब के लिए क्लिक करें)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi