S M L

सेल्फी लेने वालों से दूर क्यों भाग रहे हैं कर्नाटक के नेता!

सेल्फी लेने वालों को देखते ही नेता भाग खड़े होते हैं, खासकर कर्नाटक के कांग्रेसी नेता तो स्मार्टफोन देखते ही डर जाते हैं

Updated On: Mar 06, 2018 06:17 PM IST

FP Staff

0
सेल्फी लेने वालों से दूर क्यों भाग रहे हैं कर्नाटक के नेता!

सेल्फी लेना इन दिनों ट्रेंड बन चुका है. नेता, अभिनेता, खिलाड़ी और बड़ी हस्ती को देखते ही लोग सेल्फी के लिए टूट पड़ते हैं. अपने फैंस को खुश करने के लिए बड़े लोग सेल्फी देने में हिचकिचाते नहीं हैं. लेकिन कर्नाटक में विधानसभा चुनाव से पहले माहौल अलग है. सेल्फी लेने वालों को देखते ही नेता भाग खड़े होते हैं. खासकर कर्नाटक के कांग्रेसी नेता तो स्मार्टफोन देखते ही डर जाते हैं.

सेल्फी से तौबा करने वालों में सबसे आगे हैं राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया. जैसे ही मुख्यमंत्री किसी को स्मार्टफोन के साथ देखते हैं वो उनसे दूरियां बना लेते हैं. इस बारे में मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा 'इन दिनों ये एक बड़ी बाधा बन गई है. मैं जहां भी जाता हूं लोग मेरे साथ सेल्फी लेना चाहते हैं. यहां तक कि महिलाओं को भी मेरे साथ सेल्फी चाहिए. ऐसी चीजों से मैं शर्मिंदा हो जाता हूं. ये समय की बर्बादी भी है. कोई भी मीटिंग खत्म होते ही लोग सेल्फी के लिए जमा हो जाते हैं. लेकिन अब मैं इस सेल्फी को झेल नहीं सकता.'

तो शिवकुमार को इसलिए गुस्सा आता है 

कद्दावर मंत्री और कर्नाटक कांग्रेस कैंपेन कमिटी के अध्यक्ष डीके शिवकुमार भी सेल्फी से परेशान हैं. उन्होंने एक बार सेल्फी लेने वाले का स्मार्टफोन्स भी तोड़ दिया था. सेल्फी को लेकर उनका गुस्सा कई बार मीडिया की खबरें भी बनी है.

शिवकुमार ने कहा 'मैं समझता हूं कि वे हमें पसंद करते हैं और हमारे साथ फोटो लेना चाहते हैं लेकिन ये हर समय संभव नहीं होता है. हमलोग कई बार एयरपोर्ट, मॉल और सिनेमा हॉल जैसे सार्वजनिक स्थान पर भी रहते हैं. वे हमारी तरफ सेल्फी के लिए दौड़ते हैं. समय की काफी बर्बादी होती है. हम अहम मीटिंग्स के लिए कई बार देर हो जाते हैं.'

बीजेपी के सांसद और पूर्व मंत्री शोभा करंदलाजे का कहना है कि सेल्फी के डर से उसने शॉपिंग मॉल और सिनेमा जाना बंद कर दिया है. न्यूज़ 18 से बात करते हुए उन्होंने कहा 'जिस समय मैं जाती हूं, भीड़ मुझे घेर लेती है. एक कप कॉफी भी पीना मुश्किल हो गया है.'

90-दिनों की 'परिवर्तन यात्रा' के दौरान बीजेपी के मुख्यमंत्री का चेहरा बीएस येदियुरप्पा को भी सेल्फी लेने वालों ने खासा परेशान किया.

सेल्फी लेने वालों ने 85 साल के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा को भी नहीं छोड़ते. न्यूज़ 18 से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा 'वे मेरे साथ लिफ्ट के अंदर भी लोग आ जाते हैं और सेल्फी लेने लगते हैं. हम उन्हें मना नहीं कर सकते.'

सेल्फी कई बार नेताओं को शर्मसार भी कर देती है. एक बार एक मंत्री को लोगों ने अंतिम संस्कार के दौरान सेल्फी के लिए घेर लिया. कर्नाटक में चुनाव प्रचार धीरे-धीरे जोर पकड़ रहा है. ऐसे में नेता को सेल्फी लेने वाले जरूर परेशान करेंगे. लेकिन सेल्फी के लिए मना करना कही नेताजी को मंहगा न पड़ जाए क्योंकि वोटरों को खुश रखेंगे तभी तो उन्हें वोट मिलेंगे.

(न्यूज18 के लिए डीपी सतीश की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi