S M L

विदेश राज्यमंत्री बोले- नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए कोशिशें तेज, ब्रिटेन को लिखी चिट्ठी

विदेश मामलों के राज्यमंत्री वी.के. सिंह ने संसद में बताया कि सरकार ने भगोड़े नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटेन सरकार को एक चिट्ठी लिखी है.

Updated On: Aug 03, 2018 02:50 PM IST

FP Staff

0
विदेश राज्यमंत्री बोले- नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए कोशिशें तेज, ब्रिटेन को लिखी चिट्ठी

पंजाब नेशनल बैंक में हुए करीब 13 हजार करोड़ के घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को भारत लाने की कोशिशें तेज हो गई हैं. विदेश मामलों के राज्यमंत्री वी.के. सिंह ने संसद में बताया कि सरकार ने भगोड़े नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटेन सरकार को एक चिट्ठी लिखी है.

वी.के. सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा, 'ब्रिटेन से नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए गृह मंत्रालय से विदेश मंत्रालय को एक प्रत्यर्पण अनुरोध प्राप्त हुआ.' उन्होंने कहा, 'इस अनुरोध पत्र को लंदन में भारत के उच्चायोग (एचसीआई) के विशेष राजनयिक विभाग द्वारा ब्रिटेन सरकार तक पहुंचा दिया गया है.'

सिंह ने कहा कि विदेश मंत्रालय ने 16 फरवरी, 2018 को पासपोर्ट अधिनियम, 1967 की धारा 10 (3) (सी) के प्रावधान के तहत नीरव मोदी के पासपोर्ट को रद्द कर दिया था. उन्होंने कहा, 'इंटरपोल को भेजने के लिए ये जानकारी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को दे दी गई थी.'

उन्होंने ये भी कहा कि मंत्रालय के पास नीरव मोदी की किसी यात्रा (यदि उन्होंने की है) या इस तरह की यात्राओं के लिए पासपोर्ट का इस्तेमाल करने के मामले को प्रमाणित नहीं कर सकता. सीबीआई और ईडी बैंक धोखाधड़ी मामले में नीरव मोदी और उनके मामा गीतांजलि समूह के मेहुल चोकसी की जांच कर रहे हैं.

बता दें कि नीरव मोदी, उनके मामा मेहुल चौकसी और उनसे जुड़ी कंपनियों पर पीएनबी से धोखाधड़ी का आरोप है. कंपनी की वेबसाइट के अनुसार, उसका कारोबार अमेरिका, यूरोप, पश्चिम एशिया और भारत सहित कई देशों में फैला है. उसने अपनी मौजूदा स्थिति के लिए नकदी और सप्लाई चेन में दिक्कतों को जिम्मेदार बताया है.

(साभार: न्यूज18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi