S M L

विवेक तिवारी हत्याकांड: मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी और 25 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा

शुक्रवार की रात एपल कंपनी में मैनेजर विवेक तिवारी की घर लौटते समय पुलिस की गोली लगने से मौत हो गई थी

Updated On: Sep 29, 2018 09:44 PM IST

Bhasha

0
विवेक तिवारी हत्याकांड: मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी और 25 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा

विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद उनकी पत्नी की मांगों को सरकार ने मान लिया है. लखनऊ के डीएम ने कहा कि- 'परिवार द्वारा लिखित में दी गई सारी मांगों को मंजूरी दे दी गई है. अगर वे सीबीआई जांच चाहते हैं, तो इसे भी शुरू किया जाएगा. मृतक की पत्नी को नौकरी और मुआवजे के रूप में 25 लाख रुपए दिए जाएंगे. इसके साथ ही जांच 30 दिनों के भीतर पूरी की जाएगी.'

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के वीआईपी इलाके में शुक्रवार रात एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने एक युवक को गोली मार दी थी. मृतक विवेक तिवारी एपल कंपनी का एरिया सेल्स मैनेजर था.

विवेक आईफोन की लॉन्चिंग प्रोग्राम को अटेंड करके वापस घर लौट रहे थे. रास्ते में पुलिस ने उन्हें गाड़ी रोकने का इशारा किया था. इस बात पर विवेक के साथ पुलिस कॉन्स्टेबल की थोड़ी झड़प हो गई. बात इतनी बढ़ी की कॉन्स्टेबल ने विवेक पर गोली चला दी. जिसमें विवेक की मौत हो गई.

वहीं मृतक की पत्नी कल्पना तिवारी ने पुलिस प्रशासन पर सवाल खड़े करते हुए इंसाफ की मांग की थी. उन्होंने अपने पति की हत्या की जांच को लेकर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को भी पत्र लिखा था.

उन्होंने लिखा था कि वह इस मामले की सीबीआई जांच चाहती हैं. इस हत्याकांड को लेकर विपक्ष ने भी सरकार पर निशाना साधना शुरु कर दिया था और कांग्रेस, सपा सहित आम आदमी पार्टी ने भी मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग कर रहे थे.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi