S M L

आईएस या पाकिस्तान के झंडे लहराने वालों को नहीं छोड़ेंगे: बिपिन रावत

रावत ने यह बयान जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और बांदीपुरा इलाके में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के दौरान दिया.

Updated On: Feb 16, 2017 07:23 AM IST

FP Staff

0
आईएस या पाकिस्तान के झंडे लहराने वालों को नहीं छोड़ेंगे: बिपिन रावत

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि जो लोग आतंकियों के एंकाउंटर में बाधा खड़ी करते हैं और सेना का मनोबल नहीं बढ़ाते वह भी एक तरह से आतंकियों के कार्यकर्ता ही है.

वहीं उन्होंने यह भी कहा कि जो लोकल लोग आईएसआईएस और पाकिस्तान के झंडे दिखाकर लोगों के बीच दहशत का माहौल पैदा करना चाहते हैं, उन्हें भी राष्ट्रद्रोही माना जाएगा और उन्हें बक्शा नहीं जाएगा.

रावत ने यह बयान जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और बांदीपुरा इलाके में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के दौरान दिया. पीएम नरेंद्र मोदी भी शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने पहुंचे.

14 फरवरी को बांदीपुरा इलाके में आतंकियों के साथ हुई घुसपैठ में 2 जवान शहीद हो गए थे. वहीं 12 फरवरी को भी कुलगाम इलाके में दो जवान शहीद हुए थे.

मेजर एस दहिया और 3 जवान आतंकियों के साथ अलग-अलग जगहों पर हुई मुठभेड़ में शहीद हो गए थे. मेजर दहिया उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के क्रालगुंद इलाके में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे. वहीं तीन और जवान आतंकियों से लड़ते बांदीपुरा इलाके में शहीद हुए.

पिछले 4 दिनों में आतंकियों के साथ सुरक्षा बलों की तीन जगहों पर मुठभेड़ हो चुकी है. इसके बाद सुरक्षा के मद्देनजर कड़े फैसले लिए गए हैं.

12 फरवरी को दो नागरिकों के मारे जाने को लेकर अलगाववादियों के बंद के आह्वान को देखते हुए एहतियात के तौर पर अफसरों ने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के कुछ हिस्सों में बुधवार को प्रतिबंध लगा दिया है.

कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए कुलगाम शहर सहित जिले के कुछ संवेदनशील इलाकों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत प्रतिबंध लगा दिया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi