S M L

विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल धार्मिक आतंकवादी संगठन हैं: CIA

बजरंग दल के संस्थापक और अध्यक्ष विनय कटियार ने सीआईए की इस रिपोर्ट को झूठी और राजनीति से प्रेरित बताया है

Updated On: Jun 15, 2018 04:16 PM IST

FP Staff

0
विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल धार्मिक आतंकवादी संगठन हैं: CIA

अमेरिका की इंटेलिजेंस विंग 'सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी' (सीआईए) ने अपने वर्ल्ड फैक्टबुक में विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल को 'धार्मिक आतंकवादी संगठन' करार दिया है.

क्या है सीआईए का फैक्टबुक?

सीआईए हर साल अपनी फैक्टबुक जारी करता है. इसमें इतिहास, लोग, सरकार, अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, भूगोल, संवाद, आतंकियों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों से जुड़ी 267 विश्व संस्थाओं की जानकारी दी जाती है. एजेंसी ये फैक्टबुक 1962 से प्रकाशित कर रही है. लेकिन 1975 में पहली बार इसे सार्वजनिक किया गया.

इस साल के फैक्टबुक में एजेंसी ने 'राजनीतिक दबाव' पर चलने वाले संगठनों का वर्गीकरण किया है. ये संगठन या तो राजनीति में शामिल होते हैं या फिर बहुत ज्यादा राजनीतिक दबाव बनाते हैं. ऐसे संगठनों के नेता चुनाव नहीं लड़ते.

विनय कटियार ने रिपोर्ट को झूठा कहा 

हांलाकि इस तथ्य को गलत ठहराते हुए वीएचपी के प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा, सीआईए को उनसे माफी मांगनी चाहिए और अपने रिपोर्ट पर काम करना चाहिए. उन्होंने सरकार को भी इस मामले में दखल देने को कहा है. वहीं बजरंग दल के संस्थापक और अध्यक्ष विनय कटियार ने भी सीआईए की रिपोर्ट झूठी और राजनीति से प्रेरित बताते हुए इसका कड़ा विरोध किया है. उन्होंने कहा कि बजरंग दल एक सामाजिक, धार्मिक और सांस्कृतिक संगठन है. इसे बदनाम करने की झूठी साजिश की जा रही है.

एजेंसी ने वीएचपी और बजरंग दल के अलावा आरएसएस, हुर्रियत कॉन्फ्रेंस और जमात-ए-उलेमा-ए-हिंद को भी राजनीतिक दबाव वाले संगठन की केटेगरी में डाला है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi