S M L

तमिलनाडु के स्टरलाइट कॉपर प्लांट में एसिड लीक गंभीर: वेदांता

बुधवार को कंपनी ने कहा 'एसिड का रिसाव एक गंभीर जोखिम और खतरा है. क्योंकि ज्वलनशील रसायन और सामग्रियां प्लांट एरिया में हैं.'

Updated On: Jun 20, 2018 07:54 PM IST

FP Staff

0
तमिलनाडु के स्टरलाइट कॉपर प्लांट में एसिड लीक गंभीर: वेदांता

तूतीकोरिन में बंद कर दिए गए स्टरलाइट तांबा संयंत्र के स्टोरेज टैंक से सलफ्यूरिक एसिड का मामूली रिसाव होने के बाद वेदांता ने कहा 'इस एसिड लीक के गंभीर और निष्क्रियता पर्यावरणीय परिणाम हो सकते हैं.'

बुधवार को कंपनी ने कहा 'एसिड का रिसाव एक गंभीर जोखिम और खतरा है. क्योंकि ज्वलनशील रसायन और सामग्रियां प्लांट एरिया में हैं.'

कंपनी ने मद्रास हाईकोर्ट में कहा 'पाइप के किनारों में गंभीर रिसाव है और यह एसिड भंडारण टैंक में डूबे हुए हैं जो कि आसपास लंबी और ऊंची दीवारों से घिरा हुआ0 है.'

इससे पहले जिला प्रशासन ने रविवार को कहा था कि एसिड मामूली सा लीख हुआ था और स्टोरेज टैंक को खाली करवाने के लिए उचित कदम उठाए गए हैं.

शनिवार की शाम को पुलिस, राजस्व संभागीय और स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों की निगरानी के दौरान संयंत्र के सलफ्यूरिक एसिड स्टोरेज टैंक से मामूली रिसाव का पता चला था.

कंपनी ने कहा था कि उसके अधिकारी जिला प्रशासन के अधिकारियों की स्थिति से निबटने में मदद कर रहे हैं और वह राज्य सरकार से ‘सीमित पहुंच और न्यूनतम विद्युत आपूर्ति’ का अनुरोध भी कर रही है ताकि कॉपर स्मेल्टर में सुरक्षा ऑडिट किया जा सके.

कंपनी ने एक बयान में कहा था , 'वह अनुरोध अब भी लंबित है. हम एक बार फिर सरकार से कम से कम हमें कॉपर स्मेल्टर तक सीमित पहुंच उपलब्ध कराने की अपील करते हैं.'

कंपनी ने कहा कि पिछले महीने सरकार द्वारा जब से इस संयंत्र को बंद किया गया है तब से उसके अधिकारियों की संयंत्र तक कोई पहुंच नहीं है.

सरकार ने 28 मई को एक सरकारी आदेश जारी कर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को इस संयंत्र को सील करने और स्थाई रूप से बंद करने का आदेश दिया था. इससे पहले प्रदूषण चिंताओं को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन में 13 लोग पुलिस गोलीबारी में मारे गए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi