S M L

उत्तराखंड: मिड-डे मील के पहले बच्चों को पढ़ना होगा भोजन मंत्र

राज्य सरकार जल्द ही इस फैसले से संबंधित निर्देश जारी कर सकती है जो राज्य के 18,000 स्कूलों पर लागू होगा

Updated On: Jul 09, 2018 02:37 PM IST

FP Staff

0
उत्तराखंड: मिड-डे मील के पहले बच्चों को पढ़ना होगा भोजन मंत्र
Loading...

उत्तराखंड का शिक्षा विभाग जल्द ही स्कूलों को निर्देश जारी करने वाला है, जिसमें सभी स्कूलों में मध्यान्ह भोजन के पहले बच्चों को भोजन मंत्र का उच्चारण कराया जाएगा. यह निर्देश राज्य के सभी 18,000 स्कूलों में मान्य होगा जहां लगभग 12 लाख बच्चे पढ़ते हैं. निर्देश के मुताबिक यह भोजन मंत्र स्कूलों और रसोइयों की दीवार पर भी लिखा जाएगा. ताकि बच्चे पढ़ कर इस का उच्चारण कर सकें.

विद्यालय शिक्षा विभाग के निदेशक आर के कुंवर ने कहा कि जुलाई महीने के पहले सप्ताह में हुई मीटिंग में शिक्षा मंत्री समेत कई अधिकारियों ने इस सुझाव पर चर्चा की. साथ ही उन्होंने यह सुझाव संबंधित अधिकारियों को भेजा है. ताकि जल्द से जल्द इसे लागू किया जा सके.

कुंवर ने कहा कि मीटिंग में कई और बिंदुओं पर भी चर्चा हुई. जिसमें पाठ्यक्रम में योग को शामिल किया जाना और छात्रों को महान भारतीय शख्सियतों के बारे में बताना भी शामिल है. साथ ही उन्होंने कहा कि छात्रों के दिन की शुरुआत गायत्री मंत्र, सरस्वती वंदना के साथ कराने पर भी चर्चा हुई. उनका कहना है कि स्थानीय भाषाओं में भी प्रार्थना सिखाई जाएगी.

राज्य सरकार के इस फैसले पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड के स्कूलों की हालत काफी खराब है. ऐसे में राज्य सरकार को स्कूलों में दी जाने वाली शिक्षा की गुणवत्ता पर ध्यान देना चाहिए मंत्रों पर नहीं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi