S M L

UP-उत्तराखंड में जहरीली शराब का कहर: अब तक 90 लोगों की मौत, 30 आरोपी गिरफ्तार

अवैध शराब मामले में पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. इस सिलसिले में विभिन्न स्थानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है

Updated On: Feb 09, 2019 03:06 PM IST

FP Staff

0
UP-उत्तराखंड में जहरीली शराब का कहर: अब तक 90 लोगों की मौत, 30 आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीकर मरने वालों का आंकड़ा 90 के पार पहुंच गया है. यूपी के सहारनपुर में 38, मेरठ में 18,कुशीनगर में 8 लोगों की इस वजह से मौत हुई है. वहीं उत्तराखंड के हरिद्वार और रुड़की में जहरीली शराब अब तक लगभग 25 से ज्यादा लोगों को मौत की नींद सुला चुका है.

जहरीली शराबकांड से इतनी बड़ी संख्या में हुई मौत के बाद दोनों राज्यों में हड़कंप मच गया है. अवैध शराब के खिलाफ ताबड़तोड़ पुलिस कार्रवाई की जा रही है.

हादसे के बाद शनिवार को सहारनपुर के जिलाधिकारी (डीएम) आलोक कुमार पांडेय और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) दिनेश कुमार ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि 36 लोगों की मौत सहारनपुर के अलग-अलग गांवों में हुई है. उन्होंने कहा कि अब तक 46 पोस्टमार्टम हो चुके हैं. इनमें से 36 लोगों की मौत स्पष्ट रूप से जहरीली शराब पीने से हुई है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि 11 लोगों ने मेरठ में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

उन्होंने कहा कि घटना को गंभीरता को देखते हुए अवैध शराब के कारोबार से जुड़े हुए 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. साथ ही सहारनपुर के इंस्पेक्टर, चौकी इंचार्ज और बीट सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है.

जिले के एसएसपी दिनेश कुमार ने पुलिस की कार्रवाई पर अपडेट देते हुए बताया कि अब तक 3 पुलिस स्टेशनों पर एफआईआर दर्ज की गई हैं. संयुक्त टीम ने शुक्रवार रात से अब तक की कार्रवाई में कम से कम 30 लोगों को गिरफ्तार किया है और 25 एफआईआर दर्ज की गई है. 400 लीटर से अधिक अवैध शराब जब्त की गई. जब तक यह पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाता हमारी कार्रवाई जारी रहेगी.

इस बीच बांदा में अवैध शराब की बिक्री के मामले में पुलिस ने बीती रात जिले के विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की. एएसपी बांदा लाल भरत कुमार पल ने कहा, 'हमने बड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद किए हैं. यह छापेमारी कल भी जारी रहेगी. इसके लिए 15 टीमों को तैयार किया गया है.'

पड़ोसी राज्य उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) अशोक कुमार ने बताया कि गुरुवार शाम झबरेड़ा क्षेत्र में स्थित बालूपुर गांव में एक मृतक की तेरहवीं में अवैध शराब परोसे जाने के बाद लोगों की तबीयत बिगड़ गई और अब तक 16 लोगों की मौत हो गई है. इस मामले में 13 कर्मचारियों को सस्पेंड किया गया है. वहीं मजिस्ट्रेट जांच के निर्देश दिए गए हैं.

क्या है पूरा मामला?

यह मामला शुक्रवार सुबह तब सामने आया जब सहारनपुर के उमाही गांव से यह खबर मिली कि यहां 5 लोगों की मौत हो गई है. वहीं 10 लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. स्थानीय लोगों ने बताया कि पीड़ित लोगों ने जहरीली शराब पी थी. इससे पहले गुरुवार को यूपी के ही कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से 5 और लोगों की मौत हो गई थी. प्रशासन ने इस मामले में थानेदार और आबकारी निरीक्षक समेत नौ लोगों को सस्पेंड कर दिया है. वहीं कच्ची शराब बेचने वालों पर मुकदमा दर्ज कर एक कारोबारी को गिरफ्तार किया गया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जहरीली शराब पीकर मरने वालों के परिजनों को 2 लाख रुपए मुआवजा और इलाज करवा रहे पीड़ितों को 50 हजार रुपए मुआवजे का ऐलान किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi