S M L

यूपी: मुसहर जाति के 5 लोगों की भूख से मौत, अधिकारी सफाई देने में जुटे

जिन लोगों की मौत हुई वह मुसहर जाति के हैं और चूहे खाकर अपना गुजारा करते हैं. उनका मुख्य भोजन चूहा और घोंघा ही होता है

Updated On: Oct 08, 2018 09:50 AM IST

FP Staff

0
यूपी: मुसहर जाति के 5 लोगों की भूख से मौत, अधिकारी सफाई देने में जुटे

यूपी में सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद भूख की वजह से लोगों के मरने का सिलसिला रुक नहीं रहा है. कुशीनगर में भूख और बीमारी की वजह से 2 लोगों की 14 सितंबर को मौत हो गई थी. वहीं इससे कुछ दूरी पर स्थित रकबा डुल्मा पट्टी गांव में भी 3 लोगों की मौत हो गई.

टीओआई के मुताबिक बीते महीने में भूख की वजह से कुल 5 लोगों की मौत हुई है लेकिन अधिकारी वर्ग इस बात से साफ इनकार कर रहा है. उनका कहना है कि लोगों की मौत की वजह भूख नहीं थी.

मिली खबर के मुताबिक जिन लोगों की मौत हुई वह मुसहर जाति के हैं और चूहे खाकर अपना गुजारा करते हैं. उनका मुख्य भोजन चूहा और घोंघा ही होता है. सरकारी अधिकारी कह रहे हैं कि मरने वाले लोग भूख की वजह से नहीं बल्कि बीमारी की वजह से मरे हैं.

डुल्मा पट्टी गांव के लोगों का कहना है कि खाने के लिए उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ता है, हालही में एक शख्स ने परिवार की भोजन की कमी को पूरा करने के लिए हाथगाड़ी बेच दी थी.

मुसहर जाति के बच्चे स्कूल भी नहीं जा पाते क्योंकि उन्हें पूरा दिन चूहे ढूंढना होता है. चूहों के मिलने पर वह खुश होते हैं और उन्हें खाकर अपनी भूख मिटाते हैं. पकड़े गए चूहों को वह कई दिनों तक भी खा सकते हैं. इन लोगों को पीडीएस की दुकानों से केवल चावल या गेहूं मिल पाता है.

इसलिए यह लोग मिले हुए अनाज को बेच देते हैं और उससे खाने पीने की चीजें खरीदते हैं या फिर दवा. गरीबी की वजह से वह अपना इलाज नहीं करवा पाते इसलिए उनकी बीमारी से जान चली जाती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi