S M L

NTPC धमाका: गुजरात में चुनाव प्रचार रोक रायबरेली पहुंचे राहुल, पीड़ितों से मिले

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपना दक्षिणी गुजरात का दौरा बीच में ही रोक कर रायबरेली पहुंचे गए हैं. वो यहां पीड़ितों के परजिनों से मुलाकात करेंगे

FP Staff Updated On: Nov 02, 2017 01:12 PM IST

0
NTPC धमाका: गुजरात में चुनाव प्रचार रोक रायबरेली पहुंचे राहुल, पीड़ितों से मिले

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपना दक्षिणी गुजरात का दौरा बीच में ही रोक कर रायबरेली पहुंचे गए हैं. यहां उन्होंने मृतकों और घायलों के परिजनों से मुलाकात की. इसके बाद राहुल गांधी एनटीपीसी प्लांट पहुंचे और वहां उन्होंने हादसे वाली जगह का जायजा लिया.

उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ के बाद एनटीपीसी ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने हादसे में मृत लोगों के परिजनों को 2-2 लाख के मुआवजे का ऐलान किया था. जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है.

वहीं पीड़ितों को इलाज के लिए दिल्ली ट्रांसफर किया जाएगा. रायबरेली में एनटीपीसी के प्लांट में बॉयलर का पाइप फटने से बड़ा हादसा हुआ. इस बीच ऊंचाहार नेशनल थर्मल पावर कॉर्पोरेशन (एनटीपीसी) के प्लांट हादसे में मरने वालों की संख्या 26 पहुंच गई है, जबकी अब भी कईयों की हालत गंभीर बनी हुई है. यह जानकारी प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने दी.

साथ ही राहुल ने प्रशासन से आग्रह किया है कि घायलों को तुरंत मदद दी जाए. हालांकि राहुल दोपहर तक गुजरात नवसर्जन यात्रा में शामिल होने के लिए वापस रवाना हो जाएंगे. राहुल ने ट्वीट किया, एनटीपीसी में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के कारण, मैं कल सुबह रायबरेली जाऊंगा. दोपहर में आकर गुजरात नवसर्जन यात्रा में शामिल होऊंगा.'

राहुल ने एक और ट्वीट कर कहा, रायबरेली NTPC प्लांट की घटना से मन विचलित है. मेरी संवेदनाएं मृतकों के परिवार के साथ हैं. प्रशासन से आग्रह है घायलों को तत्काल मदद दी जाए.

अधिकारियों ने बताया है कि एनटीपीसी ने धमाके के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी है. प्रमुख सचिव (गृह) ने कहा, हादसे में 90-100 लोग घायल हुए हैं. बताया जा रहा है कि इस हादसे के वक्त प्लांट में करीब 150 मजदूर काम कर रहे थे. जहां यह हादसा हुआ वहां 500 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है. मरने वालों की संख्या बढ़ने का भी अनुमान है.

राहुल गांधी कांग्रेस की 'नवसर्जन गुजरात यात्रा' के हिस्से के तौर पर एक से तीन नवंबर तक दक्षिण गुजरात के आदिवासी बहुल कई गांवों और शहरों का दौरा करने वाले हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi