S M L

यूपी: विधान परिषद के सभापति के बेटे की गला घोंटकर हुई हत्या, मां को मिली 14 दिन की न्यायिक हिरासत

शुरुआत में परिवार वालों की ओर से दावा किया जा रहा था कि सीने में दर्द के चलते उसकी स्वाभाविक मौत हुई है और वह लोग पुलिस को लगातार गुमराह कर रहे थे

Updated On: Oct 22, 2018 04:04 PM IST

FP Staff

0
यूपी: विधान परिषद के सभापति के बेटे की गला घोंटकर हुई हत्या, मां को मिली 14 दिन की न्यायिक हिरासत
Loading...

उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति रमेश यादव के छोटे बेटे अभिजीत यादव की मौत के मामले में उनकी मां को गिरफ्तार कर लिया गया है और कोर्ट ने उन्हें 14 की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पोस्टमार्ट्म रिपोर्ट से पता चला है कि अभिजीत की मौत गला घोंटने से हुई थी. साथ ही उसके सिर पर भी चोट के कई निशान मौजूद थे. शुरुआत में परिवार वालों की ओर से दावा किया जा रहा था कि सीने में दर्द के चलते उसकी स्वाभाविक मौत हुई है और वह लोग पुलिस को लगातार गुमराह कर रहे थे. प्राप्त जानकारी के अनुसार मौत के बाद एसएसपी  की मौजूदगी में ही परिवार वाले आनन-फानन में अंतिम संस्कार के लिए शव ले गए थे लेकिन बाद में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की दखल के बाद शव का अंतिम संस्कार रोक दिया गया. इसके बाद शव का पोस्टमार्ट्म करवाया गया जिसकी रिपोर्ट में हत्या की बात सामने आई है.

दारुल सफा से अभिजीत यादव की लाश मिली

एसपी ईस्ट सर्वेश मिश्रा ने बताया कि लखनऊ के हसरतगंज इलाके के दारुल सफा से अभिजीत यादव की लाश मिली है. परिजन शुरुआत में इसे सामान्य मौत बता रहे थे लेकिन जब पुलिस को इस घटना को लेकर शक हुआ तो शव का पोस्टपार्टम कराया गया और रिपोर्ट में हत्या की बात सामने आई. पुलिस ने बताया कि इस मामले में अभिजीत की मां मीरा यादव को गिरफ्तार कर लिया गया और उनसे पूछताछ की गई. इस दौरान मां मीरा यादव ने स्वीकार किया कि उसके बेटे ने काफी शराब पी रखी थी और वह उनके साथ बुरा बर्ताव कर रहा था.

मृतक अभिजीत के बड़े भाई अभिषेक यादव ने दर्ज कराई FIR

दूसरी तरफ, मृतक अभिजीत के बड़े भाई अभिषेक यादव की तरफ से भी एफआईआर दर्ज कराया गया था. बड़े बेटे की शिकायत के बाद हत्या के आरोप में पुलिस ने रमेश यादव की पत्नी मीरा यादव को गिरफ्तार कर लिया. हजरतगंज पुलिस ने मीरा यादव से तकरीबन 9 घंटे की पूछताछ की थी.पुलिस ने बताया कि रमेश यादव की पत्नी ने अपने पति पर भी इस हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया है. पुलिस मामले की बारीकी से जांच कर रही है.

रात में सोते वक्त अभिजीत के सीने में बहुत तेज दर्द था

बता दें कि बीते रविवार को संदिग्ध हालात में अभिजीत यादव की मौत हो गई. अभिजीत का शव दारुल शफा के डी ब्लॉक स्थित कमरा नंबर 137 में पाया गया. कमरे में मां और बड़ा भाई भी मौजूद था. वहीं परिजनों का दावा था कि रात में सोते वक्त अभिजीत के सीने में बहुत तेज दर्द था. इसके बाद वह सो गया और सुबह वह बिस्तर पर मृत पाया गया. हालांकि पुलिस ने मौत की सभी परिस्थितियों को संदेहजनक बताया है.

सभापति रमेश यादव ने दो शादियां की हैं

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार विधान परिषद के सभापति रमेश यादव ने दो शादियां की हैं. पहली पत्नी प्रेमा देवी हैं जो एटा जिले में रहती हैं. उनका बेटा आशीष यादव पूर्व में एटा सदर से विधायक भी रह चुका है. दूसरी पत्नी मीरा यादव हैं जो दारुल शफा स्थित बी ब्लाक के कमरा नंबर 137 में अपने दो बेटों अभिषेक यादव उर्फ लक्की और छोटे बेटे अभिजीत यादव उर्फ विक्की के साथ रहती हैं.

मां ने सीने में मालिश कर अभिजीत को सुला दिया था

बीते रविवार सुबह अभिजीत अपने बिस्तर पर मृत अवस्था में पड़ा हुआ था. परिजनों का कहना था कि विवेक शनिवार रात करीब 11 बजे घर आया था. तब उसने सीने में दर्द होने की जानकारी अपनी मां को दी थी. मां ने सीने में मालिश कर उसे सुला दिया था. सुबह जब वह काफी देर तक नहीं उठा तो मां ने उसे उठाने की कोशिश की. शरीर में कोई हरकत न होता देख भाई को भी बुलाया गया. भाई ने जैसे ही विवेक को छुआ तो उसे पता चल गया कि उसकी मौत हो गई है. बाद में आसपास के लोगों ने ही इस घटना की सूचना पुलिस को दी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi