विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

यूपी में 4 दिन में दूसरी रेल दुर्घटना, 74 यात्री घायल, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष का इस्तीफा

आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई.

FP Staff Updated On: Aug 23, 2017 12:38 PM IST

0
यूपी में 4 दिन में दूसरी रेल दुर्घटना, 74 यात्री घायल, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष का इस्तीफा

यूपी में चार दिनों में दूसरी रेल दुर्घटना हुई है. कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले के अछल्दा और पाता रेलवे स्टेशन के बीच ये हादसा हुआ. आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. वहीं डंपर का ड्राइवर मौके पर से भाग निकला और रेलवे को इस बात की भनक तक नहीं लगी. इस हादसे के बाद अब रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अशोक कुमार मित्तल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपना इस्तीफा रेल मंत्री सुरेश प्रभु को सौंप दिया है.

मानव रहित फाटक पर देर रात ट्रेन एक डंपर से टकरा गई. दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन सहित 10 डिब्बे पटरी से उतर गए. घटना में 74 लोगों के घायल होने की खबर है. घायलों में से दो यात्री बुरी तरह से घायल हुए हैं. राहत और बचाव कार्य जारी है.

हेल्पलाइन नंबर

- इटावा: 05688-1072, 266382, 266383

- लखनऊ: 0522-2237677, 9794830975

- फैजाबाद: 05278-222603

- कानपुर: 0512-1072, 2323015, 2323016, 2323018

- अलीगढ़: 0571-1072, 2403458, 2403055

- टुंडला: 05612-1072, 220337, 220338, 220339

- शाहगंज: 9794839010

- इलाहाबाद: 0532-1072, 2408149, 2408128, 2407353

- फतेहपुर: 05180-1072, 222025, 222026, 222436

 

पल्ला झाड़ रही है रेलवे

रेलवे हादसे के लिए डंपर ड्राइवर को जिम्मेदार बताकर पल्ला झाड़ने की कोशिश कर रही है. जबकि डीआरएम और सीपीआरओ ने इस बात की पुष्टि की है कि जिस जगह हादसा हुआ, वहां डेडिकेटेड हाईस्पीड कॉरिडोर का काम चल रहा था. वहीं इलाहाबाद के डीआरएम एसके पंकज घटना के बाद औरैया पहुंचे और मीडिया से बातचीत में कहा कि हादसा डंपर के ड्राइवर की वजह से हुआ. वह अनधिकृत तरीके से ट्रैक पर पहुंचा. ड्राइवर और डंपर मालिक के खिलाफ ट्रेसपासिंग समेत अन्य धाराओं में कार्रवाई की जाएगी.

औरैया के डीएम ने भी हादसे के लिए ड्राइवर को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इस मामले में कार्रवाई के आदेश दे दिए गए हैं. ड्राइवर और डंपर मालिक के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया जाएगा. उन्होंने कहा कि डंपर अनधिकृत रूप से ट्रैक पर पहुंचा था, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ. कानपुर के एडीजी अविनाश चंद्रा ने कहा, रात को 2.40 बजे डंपर अनियंत्रित होकर पलट गया, जबकि ट्रेन 2.45 बजे आई.

कानपुर-टुंडला रूट के बीच चलने वाली सभी पैसेंजर ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. साथ ही करीब 21 ट्रेनों के रूट बदले गए, जबकि 7 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. हादसे के बाद कानपुर-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस, कानपुर-टुंडला MEMU, आगरा-लखनऊ इंटरसिटी एक्स्प्रेस, शिकोहाबाद-फंफूद समेत सात ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं और सभी राजधानी सहित 50 से ज्यादा ट्रेनों के रूट बदले गए हैं. 4 राजधानी एक्सप्रेस के साथ-साथ गोमती एक्सप्रेस का मार्ग भी बदला गया है.

इससे पहले शनिवार को मुजफ्फरनगर के खतौली में रेल हादसा हुआ था जिसमें 23 लोगों की मौत हो गई थी. दिल्ली से मेडिकल रिलीफ ट्रेन भी मौके के लिए रवाना कर दी गई थी. रेल दुर्घटना की सूचना मिलते ही रेलवे के बड़े अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए थे.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi