S M L

Bulandshahr Violence LIVE Updates: योगेश राज मुख्य आरोपी लेकिन अभी उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है- ADG

Bulandshahr Violence Updates- यूपी सरकार ने हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है. इसके अलावा परिवार को असाधारण पेंशन और 1 सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी

| December 04, 2018, 03:14 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Dec 4, 2018

  • 16:28(IST)

    सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज रात 8.30 बजे अपने आवास पर कैबिनेट की बैठक बुलाई है. 

  • 15:13(IST)

    बुलंदशहर हिंसा पर ADG (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार ने कहा कि SIT इस मामले की जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि इस मामले में अब तक 4 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. जबकि 27 लोगों को नामजद किया गया है. इस मामले में तह तक जाने के लिए 6 टीमें छापामारी कर रही हैं. 

  • 13:42(IST)

    एडीजी आनंद कुमार ने कहा है कि ये कहना अभी जल्दबाजी होगी कि ये इंटेलिजेंस फेलियर है या किसी अन्य एजेंसी की नाकामी है. जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक किसी भी पुलिसवाले के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी.

  • 13:39(IST)

    न्यूज एजेंसी ANI ने सूत्रों के हवाले से जानकारी दी है कि मृतक पुलिस अधिकारी के सिर में .32 एमएम बोर वाली बुलेट की इंजरी मिली है.

  • 13:34(IST)

    सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हुआ है. जिसमें पुलिस अफसर को गोली लगने की घटना दिखाई गई है, पुलिस उसकी भी जांच कर रही है- एडीजी

  • 13:33(IST)

    मेरठ जोन के एडीजी आनंद कुमार ने कहा है कि योगेश राज के संगठन के बारे में नहीं पता चला है. उन्होंने अभी तक इस मामले में किसी भी संगठन का नाम आने से इनकार किया है.

  • 13:31(IST)

    इस मामले में एक और मृतक सुमित कुमार को गोली लगने की घटना की भी जांच चल रही है. एडीजी ने कहा है कि शुरुआती तौर पर लगता है कि ग्रामीणों ने पहले फायरिंग की. मामले की एसआईटी अभी और जांच करेगी.

  • 13:29(IST)

    योगेश राज बजरंग दल का जिला संयोजक है. इस मामले में पुलिस ने उसे मुख्य आरोपी तो बनाया है लेकिन एडीजी ने उसकी गिरफ्तारी से इनकार किया है.

  • 13:29(IST)

    पुलिस ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. और योगेश राज को इस मामले में मुख्य आरोपी बनाया गया है- एडीजी

  • 13:28(IST)

    मेरठ जोन के एडीजी इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं. उन्होंने कहा है कि इस मामले में अभी तक योगेश राज की गिरफ्तारी नहीं हुई है. मामले की जांच चल रही है और सभी से पूछताछ की जा रही है.

  • 12:54(IST)

    बुलंदशहर हिंसा में शहीद हुए पुलिस अफसर सुबोध कुमार सिंह का पार्थिव शरीर ऐटा के उनके गांव लाया गया.

  • 12:30(IST)

    खुफिया विभाग के एडीजी एसपी शिरोडकर ने घटना वाली जगह का दौरा किया है. उन्होंने कहा है कि वो कल शाम तक अपनी रिपोर्ट सौपेंगे.

  • 12:28(IST)

    यूपी के मंत्री ओपी राजभर ने वीएचपी, आरएसएस और बजरंग दल पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि ये वीएचपी, बजरंग दल और आरएसएस की पूर्वनियोजित साजिश है. यहां तक पुलिस वाले कुछ बीजेपी के लोगों का नाम भी ले रहे हैं. आखिर उसी दिन प्रदर्शन क्यों हुआ जिस दिन मुसलमानों का इज्तेमा हो रहा था. ये शांति व्यवस्था खराब करने की कोशिश है.

  • 12:05(IST)

    बुलंदशहर हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की बहन ने इस मामले में साजिश की आशंका जाहिर की है. उन्होंने कहा है कि उनका भाई सुबोध अखलाक केस की जांच कर रहा था, इसलिए उसकी हत्या हुई है, ये पुलिस की एक साजिश है. सुबोध कुमार सिंह को शहीद का दर्जा मिलना चाहिए और उनका स्मारक बनाया जाना चाहिए. हमें पैसे नहीं चाहिए. सीएम केवल गाय-गाय कहते रहते हैं.

  • 11:52(IST)

    केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि बुलंदशहर की घटना ने मानवता को नीचा दिखाया है. राज्य सरकार को बोला गया है कि जो कोई भी इस घटना का जिम्मेदार है उसके खिलाफ बिना किसी पूर्वाग्रह के कार्रवाई की जाए. नकवी ने कहा कि वो लोगों से अपील करते हैं कि वेलोग अपने हितों के लिए नफरत फैलाने वाले लोगों से बचें.

  • 10:45(IST)

    कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने इस मामले में योगी सरकार को निशाने पर लिया है. उन्होंने कहा है कि ये दुखद और हैरान करने वाला मामला है. आखिर भीड़ उस इंस्पेक्टर की हत्या कैसे कर सकती है जिसने अखलाक केस की जांच की. भीड़ को ये अधिकार किसने दिया. अपने राज्य के हालात संभालने के बदले योगी तेलंगाना में जहर उगल रहे हैं.

  • 10:41(IST)

    इस मामले में बजरंग दल के जिला अध्यक्ष योगेश राज को पुलिस ने नंबर वन आरोपी बनाया है. उन पर दंगा भड़काने, हत्या और हत्या की कोशिश करने के कानूनी धाराओं में केस दर्ज हुआ है.

  • 10:35(IST)

    योगेश राज के अलावा इस मामले में बीजेपी यूथ विंग के सदस्य शिखर अग्रवाल का नाम भी एफआईआर में दर्ज है. इसके साथ ही विश्व हिंदू परिषद के सदस्य उपेन्द्र राघव का नाम भी पुलिस ने अपने एफआईआर में दर्ज किया है.

  • 10:34(IST)

    इस मामले में बजरंग दल के जिला अध्यक्ष योगेश राज के अलावा 27 दूसरे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. इनमें से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 4 लोगों को हिरासत में लिया गया है, जिसमें योगेश राज भी शामिल है. पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है.

  • 10:31(IST)

    बुलंदशहर हिंसा मामले में बजरंग दल के जिला अध्यक्ष का नाम सामने आया है. पुलिस ने अपने FIR में जिन 28 लोगों के नाम दर्ज किए हैं, उनमें बजरंग दल का जिला अध्यक्ष योगेश राज का नंबर सबसे ऊपर है. हालांकि पुलिस ने अपने एफआईआर में बजरंग दल का जिक्र नहीं किया है.

Bulandshahr Violence LIVE Updates: योगेश राज मुख्य आरोपी लेकिन अभी उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है- ADG

उत्तर प्रदेश का Bulandshahr बीते 24 घंटों से एक अफवाह की वजह से सुलग रहा है. सोमवार को यहां गोवंश की हत्या की अफवाह फैलने पर बेकाबू हुई भीड़ ने  हिंसा में एक पुलिस इंस्पेक्टर की गोली मारकर हत्या कर दी. इस दौरान एक स्थानीय युवक की भी जान चली गई.

पुलिस ने इस मामले में 2 एफआईआर दर्ज किया है. इसमें 27 नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के नाम दर्ज किए गए हैं. पुलिस ने आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302, 333, 353, 427, 436, 394 और 7 क्रिमिनल अमेंडमेंट लॉ के तहत एफआईआर दर्ज किया है.

मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार की अध्यक्षता में पूरे मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. उन्होंने इस मामले में 2 लोगों के गिरफ्तार किए जाने की जानकारी दी.

इस घटना के बाद इलाके और आसपास तनाव की स्थिति को देखते हुए यहां धारा 144 लागू कर दी गई है. यहां काफी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है. साथ ही आरएएफ की 5 कंपनियां और पीएसी की 6 कंपनियों की भी तैनाती की गई है.

इस बीच मंगलवार सुबह Bulandshahr पुलिस लाइन में सुबोध कुमार सिंह को श्रद्धांजलि दी गई. जिसके बाद उनके पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए एटा स्थित उनके पैतृक निवास रवाना किया गया.

इस घटना को लेकर राजनीति भी गरमा गई है. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने घटनास्थल पर गोवंश की हत्या को लेकर साजिश की आशंका जताई. उन्होंने कहा कि उस इलाके में अल्पसंख्यक समुदाय नहीं रहता है इसलिए सवाल खड़े होते हैं कि आखिर वहां गोवंश का मांस कहां से आया.

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस घटना को राज्य की गिरती कानून व्यवस्था से जोड़ दिया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'बीजेपी शासनकाल में उत्तर प्रदेश हिंसा और अराजकता के दुर्भाग्यपूर्ण दौर से गुजर रहा है.'

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है. साथ ही परिवार को असाधारण पेंशन और 1 सदस्य को सरकारी नौकरी देने का भी ऐलान किया.

उन्होंने दो दिन के अंदर मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने देर रात इस संबंध में बयान जारी किया. उन्होंने बुलंदशहर के चिंगरावठी इलाके में गोवंशीय पशुओं के अवशेष मिलने को लेकर उग्र भीड़ द्वारा की गयी हिंसा में स्याना के कोतवाल इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और 1 स्थानीय युवक सुमित की मौत पर गहरा अफसोस जताया.

Bulandshahr Violence

गोहत्या की अफवाह पर हिंसक भीड़ ने बुलंदशहर के स्याना थाना पर जमकर पथराव, तोड़फोड़ और आगजनी की थी (फोटो: पीटीआई)

सोमवार को बुलंदशहर क्यों सुलग उठा था?

पश्चिमी यूपी के बुलंदशहर जिले में सोमवार दिन में यह अफवाह फैली थी कि यहां एक खेत में कथित रूप से गोवंश के टुकड़े मिले हैं. आरोप लगा कि एक संप्रदाय विशेष के लोगों ने यह गोहत्या की है. अफवाह फैलने के बाद लोगों ने गोवंश के शव के अवशेषों के साथ सड़क जाम कर दी. देखते ही देखते यहां कुछ और गांवों के लोग जुट गए. सैकड़ों लोगों के विरोध-प्रदर्शन करने की जानकारी मिलने पर पुलिस वहां पहुंची जिसके बाद भीड़ का गुस्सा और भड़क गया और उन्होंने पुलिस पर पत्थराव शुरू कर दी. उपद्रवियों को काबू में करने के लिए पुलिस बल ने लाठीचार्ज कर दिया.

UP Police Subodh Kumar Singh

सुबोध कुमार सिंह

पुलिस ने इस दौरान हवाई फायरिंग भी की, जिसके बाद भीड़ और उग्र हो गई. इसमें कहा जा रहा है कि सुमित कुमार नाम के एक लड़के को भी गोली लगी, जिसकी बाद में मेरठ के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. गुस्साई भीड़ ने बुलंदशहर के स्याना थाने को फूंक दिया. इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर घेरकर हमला किया. भीड़ के प्रकोप से बचने के लिए सुबोध कुमार सिंह और उनकी टीम खेत में जा घुसी लेकिन उपद्रवियों ने पीछा कर उनपर वहां भी हमला बोल दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi