S M L

अगले सेशन से सीबीएसई पैटर्न पर होंगी यूपी बोर्ड की परीक्षाएं

शर्मा ने कहा कि बोर्ड के मौजूदा पैटर्न की वजह से हाई स्कूल और इंटरमीडियट की परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स के लिए अधिक नंबर लाना काफी मुश्किल होता है

Updated On: Feb 04, 2018 03:44 PM IST

FP Staff

0
अगले सेशन से सीबीएसई पैटर्न पर होंगी यूपी बोर्ड की परीक्षाएं

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने शनिवार को कहा कि अगले एकेडमिक सेशन से यूपी बोर्ड की परीक्षाएं एनसीईआरटी के पैटर्न पर होंगी. इसके लिए यूपी बोर्ड के पैटर्न में बदलाव किया जाएगा ताकि यूपी बोर्ड के छात्रों को बोर्ड परीक्षाओं में मिलने वाले नंबरों को सीबीएसई से संबंद्ध स्कूलों के छात्रों  को मिलने वाले नंबरों के बराबर लाया जा सके.

यूपी बोर्ड के सिलेबस में कोई खास बदलाव नहीं होगा सिर्फ परीक्षा में पूछे जाने वाले सवालों में बदलाव होगा. एनसीईआरटी पैटर्न में अधिक से अधिक लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाते हैं जिससे छात्रों के लिए अधिक नंबर लाना संभव होता है. जबकि यूपी बोर्ड और कई राज्य बोर्डों में दीर्घ उत्तरीय प्रश्न अधिक होते हैं जिसकी वजह से टॉपर स्टूडेंट्स को भी सीबीएसई पैटर्न से परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स की तुलना में बहुत अधिक नंबर नहीं मिलते.

उन्होंने कहा कि यह भी फैसला लिया गया है कि शिक्षा देने की पद्धति में प्राचीन भारतीय संस्कृति के साथ-साथ आधुनिक विकास जैसे कंप्यूटर और तकनीकी शिक्षा को भी जोड़ा जाएगा.

शर्मा ने कहा कि बोर्ड के मौजूदा पैटर्न की वजह से हाई स्कूल और इंटरमीडियट की परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स के लिए अधिक नंबर लाना काफी मुश्किल होता है, इस वजह से एनसीईआरटी के पैटर्न को लागू करने का फैसला किया गया है.

शर्मा ने कहा कि एक साल के भीतर सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में खेल-कूद की सुविधा, डिजिटल ब्लैक बोर्ड, ई-लाइब्रेरी, स्मार्ट क्लास की सुविधा और वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध करवा दी जाएगी. उन्होंने कहा कि शारीरिक शिक्षा के सिलेबस में योग को भी शामिल किया जाएगा.

शर्मा ने कहा कि वे मौजूदा परीक्षा अवधि को अगले एकेडिमिक सेशन में 75 दिन से घटाकर 15 दिन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

शर्मा ने यह भी कहा कि बोर्ड परीक्षाओं में किसी तरह की लापरवाही और कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

(पीटीआई से इनपुट्स के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi