S M L

आवेदन की इतनी तादाद नहीं संभाल पाया UPPSC, प्री परीक्षा की तारीख बढ़ाई

तकरीबन 6.5 लाख कैंडिडेट ने फॉर्म भरा, जबकि पिछले साल यह संख्या 4 या 4.5 लाख थी. बोर्ड इतनी बड़ी तादाद में परीक्षा लेने के लिए तैयार नहीं है

Updated On: Aug 06, 2018 04:52 PM IST

FP Staff

0
आवेदन की इतनी तादाद नहीं संभाल पाया UPPSC, प्री परीक्षा की तारीख बढ़ाई

उत्तर प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीपीएससी) ने प्रारंभिक (प्री) परीक्षा की तारीख 19 अगस्त से बढ़ाकर 28 अगस्त कर दी है. इसका कारण चौंकाने वाला है. कहा जा रहा है कि ऑनलाइन आवेदन की तादाद और इंफ्रास्ट्रक्चर की खस्ता हालत को देखते हुए तारीख आगे सरकानी पड़ी.

831 पदों की भर्ती के लिए सेवा आयोग ने 19 अगस्त की तारीख पक्की की थी. अब इसे सीधा डेढ़ महीने आगे बढ़ा दिया गया है.

यूपीपीएससी के सचिव जगदीश त्रिपाठी ने आवेदन के रिकॉर्ड नंबर और खस्ता हाल इंफ्रास्ट्रक्चर का हवाला दिया है. इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए उन्होंने कहा, इस साल आवेदन की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. तकरीबन 6.5 लाख कैंडिडेट ने फॉर्म भरा, जबकि पिछले साल यह संख्या 4 या 4.5 लाख थी. बोर्ड इतनी बड़ी तादाद में परीक्षा लेने के लिए तैयार नहीं है.

त्रिपाठी ने आगे कहा, परीक्षा सही ढंग से ली जा सके इसके लिए 8-10 जिलों में अपने सेंटर तय किए हैं और इसके लिए संबंधित जिला अधिकारियों को इत्तला कर दी गई है.

सचिव ने यह भी बताया कि एसडीएम पद के लिए भी काफी संख्या में आवेदन मिले हैं. इसका कारण यह है कि अन्य राज्यों के कैंडिडेट भी फॉर्म भर रहे हैं. हरियाणा, उत्तराखंड, बिहार और अन्य राज्यों के प्रतिभागियों ने भी फॉर्म भरा है.

पीसीएस परीक्षा तीन चरणों में ली जाएगी-प्री, मेंस और वाइवा (पर्सनैलिटी टेस्ट). चयनित कैंडिडेट को 9,300-34,800 की पे स्केल मिलेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi