S M L

उपहार कांड: गोपाल अंसल को 20 मार्च तक करना होगा आत्मसमर्पण

अंसल ने उपहार कांड मामले में अपनी एक साल की जेल की सजा की बाकी अवधि में छूट के लिए याचिका दायर की है

IANS Updated On: Mar 09, 2017 10:53 PM IST

0
उपहार कांड: गोपाल अंसल को 20 मार्च तक करना होगा आत्मसमर्पण

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को उपहार सिनेमा के मालिक गोपाल अंसल की जेल नहीं भेजने की याचिका को खारिज करते हुए आत्मसमर्पण की अवधि में 10 दिन की मोहलत दी है.

अंसल ने 1997 में हुए उपहार सिनेमा कांड मामले में अपनी एक साल की जेल की सजा की बाकी अवधि में छूट के लिए याचिका दायर की है.

जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस ए के गोयल की खंडपीठ ने अंसल को सजा की 7 महीने की बाकी अवधि को पूरा करने के लिए 20 मार्च को आत्मसमर्पण का निर्देश दिया है.

खंडपीठ ने कहा, 'अपील खारिज की जाती है. मुलजिम गोपाल अंसल को बाकी के 7 महीनों की जेल की सजा काटने के लिए आत्मसमर्पण करना होगा.'

भाई सुशील अंसल के साथ हैं सह-अभियुक्त  

गोपाल अंसल ने अपने भाई सुशील अंसल की तरह सजा में बदलाव की मांग की थी. अदालत ने सुशील अंसल की उम्र संबंधी दिक्कतों को ध्यान में रखते हुए कहा था कि उसने पहले ही जेल की सजा काट ली है.

वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने गोपाल अंसल की तरफ से अदालत से कहा, 'उनका सिनेमा हॉल बंद हो गया है और व्यावहारिक रूप से कुछ दूसरे लोगों की मदद और दान पर वह जी रहे हैं.'

गोपाल अंसल को बाकी की सजा जेल में काटने के लिए 9 मार्च को आत्मसमर्पण करना था. वे मामले की सुनवाई के दौरान अपने एक साल की सजा में से 4 महीने पहले ही जेल में काट चुके हैं.

13 जून, 1997 को हुए उपहार सिनेमा कांड में 59 लोग मारे गए थे. वे इस मामले में अपने भाई सुशील अंसल के साथ सह-अभियुक्त हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi