S M L

यूपी: परीक्षा में नकल कराने वाले रैकेट का पर्दाफाश, 11 सदस्य गिरफ्तार

एसटीएफ ने सूचना मिलने पर एटा में स्थित मां गायत्री इंटरमीडिएट कॉलेज में छापा मारकर बोर्ड की परीक्षा में नकल करा रहे 11 लोगों को पकड़ा

Updated On: Feb 25, 2018 01:07 PM IST

FP Staff

0
यूपी: परीक्षा में नकल कराने वाले रैकेट का पर्दाफाश, 11 सदस्य गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बोर्ड (माध्यमिक) परीक्षा में सामूहिक नकल कराने वाले रैकट का पर्दाफाश किया है. स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने गैंग के लीडर और उसके 10 साथियों को गिरफ्तार किया है.

एसटीएफ के एसएसपी अधीक्षक अभिषेक सिंह ने बताया कि शनिवार शाम एटा के सटीक इलाके में स्थित मां गायत्री इंटरमीडिएट कॉलेज में बोर्ड की परीक्षा में नकल माफिया कमरा बंद कर परीक्षा में नकल करा रहे थे. इसकी सूचना मिलने पर प्रशासन और पुलिस ने छापा मारकर स्कूल के प्रिंसिपल गौरी शंकर के अलावा उसके 10 सहयोगियों को मौके से गिरफ्तार किया.

अभिषेक सिंह ने बताया कि पकड़े गए लोगों के पास से 9 लिखी हुई कॉपियां, 2 खाली कॉपी, 18 आंसर शीट (परीक्षा पुस्तिका) बिना मुख्य पृष्ठ के ब्लैंक पाई गई और 7 ब्लैंक आंसर शीट के मेन पेज पाए गए. इसके अलावा मौके से 18 एडमिट कार्ड (प्रवेश पत्र) भी मिले हैं.

स्कूल के प्रिंसिपल और सेंटर हेड गौरी शंकर ने पूछताछ में बताया कि कुछ खास लोगों को वो और उनका भाई उमा शंकर 40-50 हजार रुपए लेकर अलग से स्कूल के कमरे में बिठाकर परीक्षा कॉपियां लिखवा रहा था.

कॉपियां लिखवाए जाने के बाद असली विद्यार्थियों की कॉपी के अंदर के पन्नों को निकालकर लिखाई गई कॉपी के पन्नों को जोड़ (स्टेपल) कर शामिल कर दिया जाता था.

पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर गिरफ्तार सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है.

राज्य सरकार के आदेश के बाद इस साल के बोर्ड परीक्षाओं में काफी सख्ती बरती जा रही है. नकल माफिया पर नकेल कसने की इस कवायद के चलते अब तक तकरीबन 12 लाख छात्र परीक्षा छोड़ चुके हैं.

बता दें कि बोर्ड की 10वीं की परीक्षा 22 फरवरी को खत्म हो चुकी है जबकि 12वीं की परीक्षा 12 मार्च को खत्म होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi