S M L

गाजीपुर: पथराव में सिपाही की मौत के मामले में अब तक 19 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में प्रदर्शनकारियों के पथराव में पुलिस के एक सिपाही की मृत्यु के मामले में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका

Updated On: Dec 30, 2018 04:19 PM IST

Bhasha

0
गाजीपुर: पथराव में सिपाही की मौत के मामले में अब तक 19 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में प्रदर्शनकारियों के पथराव में पुलिस के एक सिपाही की मृत्यु के मामले में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि गाजीपुर में हुए पथराव में हेड कांस्टेबल सुरेश प्रताप सिंह वत्स की मृत्यु बेहद दुखद है. इस मामले में दर्ज हुए तीन मुकदमों में अब तक कुल 19 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस घटना को स्थानीय प्रशासन की नाकामी करार देते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री की रैली की वजह से प्रशासन और पूरे खुफिया विभाग को पता था कि कहां पर किसका धरना-प्रदर्शन होने वाला है, मगर इसके बावजूद यह दुखद घटना घटी. इसकी आड़ में निर्दोष लोगों को परेशान किया जा रहा है. मालूम हो कि गाजीपुर जिले में शनिवार को प्रधानमंत्री की रैली में जाने से रोके जाने से नाराज लोगों द्वारा किए गए पथराव में हेड कांस्टेबल वत्स की मृत्यु हो गई थी.

जिला पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं को पुलिस और प्रशासन ने प्रधानमंत्री की रैली में जाने से रोका था. इससे नाराज होकर उन्होंने जगह-जगह रास्ता जाम कर दिया और रैली से लौटने वाले वाहनों पर पथराव किया. इस दौरान जाम खुलवाने गये हेड कांस्टेबल सुरेश वत्स (48) के सिर पर पत्थर लगने से उसकी मौत हो गई.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृत पुलिसकर्मी के परिजन को 40 लाख रूपए और उनके माता-पिता को 10 लाख रुपए की सहायता का ऐलान करते हुए इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. इस महीने ऐसी वारदात में किसी पुलिसकर्मी की मौत का यह दूसरा मामला है. इससे पहले, तीन दिसंबर को बुलंदशहर में हिंसक भीड़ के हमले में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi