S M L

यूपी इंवेस्टर्स समिट : राज्य में 'विकास-गंगा' बहाने का वादा, 2019 पर निशाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यूपी देश के विकास का ग्रोथ इंजन बन सकता है

Updated On: Feb 21, 2018 04:00 PM IST

Amitesh Amitesh

0
यूपी इंवेस्टर्स समिट : राज्य में 'विकास-गंगा' बहाने का वादा, 2019 पर निशाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में थे. मौका यूपी इंवेस्टर्स समिट के उद्घाटन का था. इस दौरान देश भर के नामी-गिरामी उद्योगपतियों की मौजूदगी में प्रधानमंत्री ने यूपी के विकास को देश के विकास के लिए सबसे जरूरी बताया.

मोदी ने कहा कि यूपी देश के विकास का ग्रोथ इंजन बन सकता है. केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के तीन साल बाद यूपी में भी बीजेपी सरकार बन गई है. ऐसे में डबल इंजन की बात करने वाले मोदी से यूपी के लोगों की भी अपेक्षाएं बढ़ गई हैं. मोदी की तरफ से भी हर हाल में यूपी के विकास का भरोसा दिया गया.

प्रधानमंत्री ने यूपी को दो डिफेंस इंडस्ट्रीयल कॉरीडोर के प्रस्ताव का जिक्र कर कहा कि इससे प्रदेश के भीतर बीस हजार करोड़ रुपए का निवेश होगा, जिसके कारण करीब ढाई लाख लोगों को रोजगार प्राप्त होगा. केंद्र सरकार की तरफ से प्रस्तावित डिफेंस कॉरिडोर आगरा से झांसी तक होगा.

इसके अलावा पूर्वांचल और बुंदेलखंड के लिए राज्य सरकार से प्रस्तावित दो एक्सप्रेसवे से भी काफी फायदा होगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे पूर्वांचल और बुंदेलखंड का विकास होने के अलावा लोगों को रोजगार भी मिलेगा. जबकि इन दोनों इलाकों में औद्योगिकीकरण को भी बढ़ावा मिलेगा.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से यूपी इंवेस्टर समिट के माध्यम से राज्य में निवेश को बढ़ावा दिए जाने के प्रयास की सराहना करते हुए मोदी ने इसे हताशा-निराशा से बाहर निकल कर काम करने वाली सरकार बताया. उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पीठ थपथपाते हुए कहा कि योगी जी ने एक भव्य और न्यू उत्तर प्रदेश के निर्माण की नींव रखी है.

यूपी में आगरा समेत 11 जगहों पर एयरपोर्ट का विस्तारीकरण हो रहा है, जहां से उड़ान सेवा के तहत हवाई सेवा शुरू की जाने वाली है. इसके अलावा पश्चिमी यूपी के जेवर और पूर्वी यूपी के कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का निर्माण चल रहा है. प्रधानमंत्री ने इसे भी यूपी के विकास में बेहतर कदम बताया.

उन्होंने यूपी में सभ्यता, संस्कृति, पर्यटन, शिक्षा के साथ-साथ भक्ति और शक्ति के कई केंद्रों का जिक्र कर इसे यूपी में विकास की तमाम संभावनाओं से जोड़ दिया. प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां राम की लीला और कृष्ण का रास भी है. गंगा-यमुना और सरयू भी हैं. बनारस की सुबह है तो अवध की शाम है. आगरे का पेठा है तो कन्नौज का इत्र है. भदोही की कालीन है तो बनारस की साड़ी है.

विविधता में एकता को समेटे यूपी में विकास की अपार संभावना है जिसका जिक्र कर मोदी ने यूपी की योगी सरकार के वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट योजना की जमकर तारीफ की.

यूपी सरकार ने अभी हाल ही में हर जिले को एक विशेष और मशहूर प्रोडक्ट के लिए हब के तौर पर तैयार करने का फैसला किया था. मसलन, मुरादाबाद का पीतल उद्दोग, अलीगढ़ का ताला, बनारस की साड़ी. इसी तरह हर जिले में उस विशेष व्यापार पर जोर दिया जाएगा जिसके लिए वो जाना जाता है. मोदी ने इस योजना को यूपी के लिए गेम चेंजर बताया.

इसके अलावा यूपी में नोएडा और गाजियाबाद के अलावा भी कई शहरों में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट पर काम होने, यूपी के दस शहरों को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तौर पर विकसित करने और हर घर में बिजली देने के वादे का जिक्र कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी राज्य को विकास की नई ऊंचाई पर ले जाने का वादा किया.

यूपी इंवेस्टर समिट 2018 में मुख्यमंत्री ने विकास के बड़े बड़े सपने दिखाए. न्यू इंडिया की तर्ज पर न्यू यूपी का नारा भी दिया. इस दौरान 1045 एमओयू पर दस्तखत हुआ है जिसमें यूपी में 4 लाख 28  हजार करोड़ रुपए के निवेश की बात कही गई है.

अगर यूपी में इस निवेश पर अमल हो गया तो निश्चित तौर पर राज्य की तस्वीर बदल सकती है.

नजर लोकसभा चुनाव पर

Ground breaking ceremony of Navi Mumbai Airport

प्रधानमंत्री मोदी यूपी से ही सांसद हैं. 2014 में वाराणसी से उनके चुनाव लड़ने से पूर्वांचल समेत पूरे यूपी में एक अलग ही संदेश गया था. मोदी लहर के कारण यूपी की 80 में से 73 सीटें बीजेपी की झोली में आ गई थीं. उस वक्त भी यूपी के लोगों को उनसे काफी उम्मीदें थीं. उम्मीद इस बात की थी यूपी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ेगा.

अब राज्य में भी बीजेपी की ही सरकार आने के बाद लोगों की उम्मीदें और अपेक्षाएं और बढ़ गई हैं. लोकसभा चुनाव में महज एक साल का ही वक्त बचा है. उसके पहले यूपी में विकास के रास्ते पर चलने का फिर से सपना दिखाया जा रहा है. लोगों के बीच यह संदेश दिया जा रहा है कि अपने वादे के मुताबिक बीजेपी की केंद्र और राज्य की सरकार यूपी में विकास की गंगा बहाएगी.

अगले लोकसभा चुनाव के वक्त भी सबकी नजरें यूपी पर ही रहेंगी. क्योंकि देश के विकास का रास्ता यूपी से ही होकर जाने का दावा करने वाले योगी और मोदी दोनों को ही मालूम है कि 2019 में भी जीत का रास्ता यूपी से ही होकर दिल्ली तक जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi