S M L

सीएम योगी का फरमान: 20 दिन में डॉक्टर बंद करें प्राइवेट प्रैक्टिस

सरकार ने ऐसे 270 डॉक्टरों की लिस्ट तैयार कर ली है जो अपनी निजी प्रैक्टिस कर रहे हैं

FP Staff Updated On: Apr 01, 2017 08:00 PM IST

0
सीएम योगी का फरमान: 20 दिन में डॉक्टर बंद करें प्राइवेट प्रैक्टिस

यूपी में सत्ता संभालने के बाद से ही योगी आदित्यनाथ ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं. सत्ता संभालने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फरमान जारी किया है. योगी सरकार ने सरकारी डॉक्टरों को फरमान दिया है कि वो 20 दिन के अंदर प्राइवेट प्रैक्टिस बंद कर दें और अगर 20 दिन के भीतर प्राइवेट प्रैक्टिस बंद नहीं की तो सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इतना ही नहीं सरकार ने ऐसे 270 डॉक्टरों की लिस्ट तैयार भी कर ली है जो प्रैक्टिस कर रहे हैं. वहीं एक और फरमान जारी करते हुए योगी ने राज्य भर की यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में कर्मचारियों के हड़ताल पर पाबंदी लगा दी है.

UP Doctor's

उत्तर प्रदेश की आबादी की तुलना में डॉक्टरों की संख्या काफी कम है (फोटो: रॉयटर्स)

आदेश के मुताबिक 30 जून तक विश्वविद्यालयों और कॉलेज के कर्मचारी हड़ताल नहीं कर पाएंगे. आदेश के मुताबिक इस नियम का उल्लंघन करने वाले कर्मचारियों को गिरफ्तार किया जा सकता है और एक साल तक सजा हो सकती है.

इसे भी पढ़ें: योगी को नहीं पसंद अखिलेश की फोटो वाले राशन कार्ड, दिया रद्द करने का आदेश

बता दें कि योगी अब तक कई अहम फैसले ले चुके हैं. वो शपथ ग्रहण के बाद कैबिनेट की पहली बैठक में वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने का आदेश दे चुके हैं. इसके साथ ही उन्होंने अपने मंत्रियों को आदेश दिया था कि वो 15 दिनों के अंदर अपनी आय का ब्योरा दें. इसके साथ ही उन्होंने यही निर्देश नौकरशाहों को भी दिया था. उन्होंने कहा था कि सभी प्रशासनिक अधिकारी अपनी संपत्ति और आय का ब्योरा उन्हें 15 दिनों के अंदर सौंपे.

(न्यूज़ 18 हिंदी से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi