S M L

पर्यावरण दिवस पर इधर योगी पौधे लगा रहे थे, उधर उनकी अगवानी में पेड़ उखाड़ दिए

सीएम योगी आदित्यनाथ के कानपुर दौरे के लिए शहर के रेल बाजार के रेलवे ग्राउंड में हेलीपैड बनाया गया था

FP Staff Updated On: Jun 05, 2018 04:40 PM IST

0
पर्यावरण दिवस पर इधर योगी पौधे लगा रहे थे, उधर उनकी अगवानी में पेड़ उखाड़ दिए

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर्यावरण दिवस के मौके पर कानपुर दौरे पर निकले थे. उनके कार्यक्रम की शुरुआत पौधारोपण से हुई. एकतरफ वो पौधे लगाकर पर्यावरण बचाने का संदेश दे रहे थे तो दूसरी तरफ उनके हेलिकॉप्टर को आसमान से जमीन पर उतारने के लिए पेड़ काटे जा रहे थे.

सीएम योगी आदित्यनाथ के कानपुर दौरे के लिए शहर के रेल बाजार के रेलवे ग्राउंड में हेलीपैड बनाया गया था. बताया जा रहा है कि हेलीपैड बनाने के लिए इस ग्राउंड से तीन-चार पेड़ काट डाले गए. सीएम के हेलिकॉप्टर की लैडिंग के लिए तीन से चार पेड़ों को जड़ से उखाड़ दिया गया जबकि कई पेड़ों की छंटाई भी की गई. कई पेड़ों की ऊंची शाखों को छोटा करने के लिए काटा गया.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर्यावरण दिवस के मौके पर सुबह सुबह पर्यावरण बचाने वाला संदेश दे रहे थे. वहीं उन्हीं की अगवानी के लिए कानपुर में धड़ल्ले से पेड़ काटे जा रहे थे. सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने कानपुर दौरे की शुरुआत में आईटीएमएस कंट्रोल रूम पहुंचे. वहां उन्होंने पौधे लगाकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया. एक तरफ तो वो लोगों से पेड़ लगाने की अपील कर रहे हैं और दूसरी तरफ उनकी अगवानी के इंतजाम में पेड़ों को जड़ों से उखाड़ा जा रहा था. स्थानीय निवासी विजय वाजपेयी ने बताया कि सीएम के दौरे के एक दो दिन पहले ये पेड़ काटे गए हैं.

kanpur tree 2 n

रेलवे ग्राउंड में काटा गया पेड़

आज ही योगी आदित्य़नाथ का जन्मदिन भी है. वो सुबह से ही ट्विटर पर लोगों के शुभकामना संदेश ले रहे हैं. शुभकामनाओं के लिए लोगों का आभार जता रहे हैं. साथ ही पर्यावरण दिवस के मौके पर पर्यावरण बचाने वाले संदेश भी जारी कर रहे हैं. लेकिन उन्हीं के दौरे में पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाला काम किया गया.

कानपुर के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में उन्होंने नदियों को प्लास्टिक मुक्त करने के अभियान को लेकर भाषण भी दिए. वहां भी कार्यक्रम की शुरुआत पौधारोपण करके हुई. पर्यावण बचाने के रस्मी कार्यक्रमों की असलियत ये है कि एक तरफ पौधे लगाए जा रहे थे औऱ दूसरी तरफ पेड़ उखाड़े जा रहे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi