S M L

यूपी बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम पर चुनाव आयोग ने फिलहाल लगाई रोक

यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 16 फरवरी से 20 मार्च तक तय थी.

Updated On: Dec 09, 2016 08:01 AM IST

FP Staff

0
यूपी बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम पर चुनाव आयोग ने फिलहाल लगाई रोक

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट 2017 की परीक्षाओं की तारीख पर फिलहाल साफ स्थिति नहीं बनी है. पहले बोर्ड ने कहा था कि परीक्षाएं 16 फरवरी से शुरू होंगी. हालांकि यह तारीखें प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से टकरा सकती हैं. इसलिए चुनाव आयोग फिलहाल इस पर रोक लगा दी है.

संभव है कि इस शेड्यूल में बदलाव किया जाए. 2012 में प्रदेश में करीब इसी समय विधानसभा चुनाव कराए गए थे. परीक्षा की तारीखों की सूचना चुनाव आयोग को भेज दी गई है. अब निर्वाचन आयोग के फैसले के बाद ही परीक्षा की विषयवार तारीखें घोषित की जाएगी.

गुरुवार दोपहर यूपी बोर्ड की सचिव शैल यादव ने 2017 की बोर्ड परीक्षाएं 16 फरवरी से होने का ऐलान किया था. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, हाईस्कूल की परीक्षा 6 मार्च तक कुल 15 दिनों में पूरी करने का कार्यक्रम था. दसवीं क्लास की परीक्षाएं 16 फरवरी से 6 मार्च 2017 तक होनी थी. 12वीं यानी इंटरमीडिएट की परीक्षा 16 फरवरी से 20 मार्च तक तय थीं. खबर के मुताबिक, कुल 60,29,252 कैंडिडेट्स ने इस बार 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है.

निर्वाचन आयोग ने यूपी बोर्ड से संभावित परीक्षा तिथि के बारे में जानकारी मांगी थी. एक दिन पहले ही आयोग ने उत्तर प्रदेश के साथ-साथ पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा जैसे राज्यों में परीक्षाओं की तिथि बिना उससे सलाह लिए न जारी करने की बात कही थी. इन राज्यों में चुनाव की घोषणा इस महीने के अंत या जनवरी में होने की संभावना है.

यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी. वेंकटेश, प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा जितेंद्र कुमार और शिक्षा निदेशक अमरनाथ वर्मा शुक्रवार को दिल्ली में केंद्रीय चुनाव आयोग से परीक्षा को लेकर मुलाकात भी करेंगे. यूपी माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के डायरेक्टर अमरनाथ वर्मा ने बताया, 'चुनाव आयोग ने परीक्षाओं का कार्यक्रम अंतिम रूप से जारी करने के पहले उनके निर्देश का इंतजार करने को कहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi