S M L

उन्नाव केस: BJP MLA सेंगर के खिलाफ CBI को मिले सबूत, रेप की हुई पुष्टि

पीड़िता ने आरोप लगाया था कि माखी गांव में पिछले साल 4 जून को विधायक सेंगर ने उसके साथ बलात्कार किया

Updated On: May 11, 2018 10:31 AM IST

FP Staff

0
उन्नाव केस: BJP MLA सेंगर के खिलाफ CBI को मिले सबूत, रेप की हुई पुष्टि
Loading...

उन्नाव गैंगरेप मामले में सीबीआई को बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ अहम सबूत मिले हैं. इससे विधायक के रेप में शामिल होने का आरोप सही साबित हो रहा है. सीबीआई को शुरुआती छानबीन में पुलिस की ओर से बरती गई ढिलाई के भी सबूत मिले हैं.

उन्नाव रेप मामले में पीड़िता ने आरोप लगाया था कि माखी गांव में पिछले साल 4 जून को विधायक सेंगर ने उसके साथ बलात्कार किया. पीड़िता का यह भी आरोप था कि विधायक की महिला सहयोगी शशि सिंह गार्ड के तौर पर रूम के बाहर खड़ी थी.

किसी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए सीबीआई ने फोरेंसिक जांच की रिपोर्ट और इस पूरे घटनाक्रम का एक दूसरे से नाता जोड़ा. नतीजतन सीबीआई को पता चला कि पीड़िता की ओर से लगाया गया गैंगरेप का आरोप सही है. इस मामले में आरोपी विधायक सेंगर, पीड़िता के पिता की पीट-पीट कर हत्या के आरोपी विधायक के भाई अतुल सेंगर और कुलदीप सेंगर की नजदीकी सहयोगी रही महिला शशि सिंह की गिरफ्तारी हो चुकी है. इनसे सीबीआई ने कई दौर की पूछताछ भी की है.

सीबीआई ने अपनी जांच में यह भी पाया कि उन्नाव की स्थानीय पुलिस ने इस केस में लापरवाही बरती. पिछले साल 20 जून को रेप के इस मामले में केस दर्ज किए गए लेकिन आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर और कुछ अन्य लोगों का नाम इससे बाहर रखा गया. इतना ही नहीं, आरोप-पत्र दायर करने में बेवजह देरी की गई.

इससे पूर्व सीबीआई ने मजिस्ट्रेट के सामने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत पीड़िता का बयान दर्ज किया था. धारा 164 के तहत रिकॉर्ड किया गया बयान कोर्ट में साक्ष्य के तौर पर माना जाता है.

रेप के आरोप सही साबित होने के बाद पीड़िता ने कहा, मेरे साथ बलात्कार और मेरे पिता की हत्या के जुर्म में मैं बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के लिए सजा-ए-मौत की मांग करती हूं.

पीड़िता के चाचा ने कहा, हम कोर्ट में अपनी बात बिना किसी डर-भय के रख सकें, इसके लिए हम सुरक्षा की मांग करते हैं. कुलदीप सेंगर को मौत की सजा मिलनी चाहिए.

सीबीआई को यह भी पता चला कि स्थानीय पुलिस ने पीड़िता की शुरुआती जांच करने में देरी की और पीड़िता के कपड़े जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजने में कोताही बरती.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi