S M L

कठुआ गैंगरेप की घटना 'भयावह', दोषियों को मिले कड़ी सजा: UN

यूएन महासचिव एंतोनियो गुतारेस के प्रवक्ता ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि अधिकारी अपराधियों को कानून के दायरे में लाएंगे ताकि बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या के मामले में उन्हें सजा दी जाए’

Updated On: Apr 15, 2018 09:44 PM IST

Bhasha

0
कठुआ गैंगरेप की घटना 'भयावह', दोषियों को मिले कड़ी सजा: UN

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ने जम्मू के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या के मामले को ‘भयावह’ करार दिया है. महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने इस जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले आरोपियों को कानून के दायरे में लाए जाने की उम्मीद जताई है.

कठुआ में खानाबदोश बकरवाल मुस्लिम समुदाय की एक बच्ची बीते 10 जनवरी को अपने घर के पास से लापता हो गई थी. इसके एक सप्ताह बाद उसका शव उसी इलाके में मिला था. गांव के ही एक मंदिर में एक सप्ताह तक उसके साथ कथित तौर पर 6 लोगों ने गैंगरेप किया. बच्ची की हत्या करने से पहले उशे नशीला पदार्थ देकर उसके साथ कई बार रेप किया गया था.

इस घटना का देश भर में भारी विरोध हो रहा है और लोगों में इसे लेकर गुस्सा है.

शुक्रवार को एंतोनियो गुतारेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा, ‘मैंने बच्ची के साथ रेप के इस जघन्य अपराध की मीडिया रिपोर्ट देखी है. हमें उम्मीद है कि अधिकारी अपराधियों को कानून के दायरे में लाएंगे ताकि बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या के मामले में उन्हें सजा दी जाए.’

बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या के मामले पर महासचिव की प्रतिक्रिया पूछे जाने पर दुजारिक ने यह बयान दिया.

मामले में अपराध शाखा के एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है. अभी तक दो पुलिस अधिकारियों सहित 8 लोगों की गिरफ्तारी हुई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इस पर अपनी नाराजगी जताते हुए इसे देश के लिए ‘शर्मनाक’ करार दिया और अपराधियों को नहीं बख्शे जाने की बात कही.  उन्होंने कहा कि ‘मैं देश को यह आश्वासन देना चाहता हूं कि कोई अपराधी बख्शा नहीं जाएगा. न्याय होगा. हमारी बेटियों को इंसाफ मिलेगा.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi