S M L

राफेलः नकवी ने कसा तंज, कहा- न इज्जत की चिंता न फिक्र किसी अपमान की, जय बोलो बेईमान की

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा- कभी-कभी ऐसा लगता है कि कुछ लोग विशेषकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को राष्ट्रीय सुरक्षा के संवेदनशील मुद्दे पर बदनाम करने और गुमराह करने के लिए 'सुपारी' मिली है

Updated On: Feb 08, 2019 01:58 PM IST

FP Staff

0
राफेलः नकवी ने कसा तंज, कहा- न इज्जत की चिंता न फिक्र किसी अपमान की, जय बोलो बेईमान की

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को राफेल मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है. पत्रकारों से बीतचीत करते हुए राफेल मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा- कभी-कभी ऐसा लगता है कि कुछ लोग विशेषकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को राष्ट्रीय सुरक्षा के संवेदनशील मुद्दे पर बदनाम करने और गुमराह करने के लिए 'सुपारी' मिली है. उन्होंने कहा- कांग्रेस की हालत इस समय कुछ ऐसी है- न इज्जत की चिंता न फिक्र किसी अपमान की, जय बोलो बेईमान की.

राहुल ने पीएम पर आरोप लगाया कि राफेल डील में पैरेलल सौदेबाजी की

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मुद्दे को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने राफेल डील में पूरी तरह हस्तक्षेप किया और अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया. राहुल ने कहा- पीएम मोदी ने देश का पैसा चोरी किया है. मैं पीएम मोदी को चोर नहीं कहना चाहता लेकिन क्योंकि यह सच है इस लिए कहना पड़ रहा है. राहुल ने सीधे प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया और कहा कि उन्होंने राफेल डील में पैरेलल सौदेबाजी की.

पीएम ने 30000 करोड़ रुपए चुराए और इसे अनिल अंबानी को दिया

राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री इस डील में सीधे तौर पर शामिल हैं. उन्होंने कल संसद में काफी लंबा भाषण दिया लेकिन इस मामले पर कोई जवाब नहीं दिया. रक्षा मंत्रालय ने साफ कहा है कि पीएम ने अलग से राफेल खरीद में सौदेबाजी की. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मैं देश के युवाओं को बताना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री ने 30 हजार करोड़ रुपए चुराए और इसे सीधे अनिल अंबानी को दे दिया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी वायुसेना को बताएं कि उन्होंने इस मामले में सीधे क्यों बातचीत की.

अखबार को अपनी रिपोर्ट में तत्कालीन रक्षा मंत्री की राय लेनी चाहिए थी

राहुल ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर भी निशाना साधा और कहा कि रक्षा मंत्री ने झूठ बोला है. राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने वायुसेना के हितों का ध्यान नहीं रखा. पीएम ने खुद इस मामले में अलग से सौदेबाजी की. दस्तावेजों में लिखा है कि चौकीदार चोर है. वहीं इस मुद्दे पर रक्षऎा मंत्री निर्मला सीतारमन ने समाचार पत्र की रिपोर्ट पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि समाचार पत्र को अपनी रिपोर्ट में तत्कालीन रक्षा मंत्री की राय भी लेनी चाहिए थी. रक्षा मंत्री ने कहा कि समाचार पत्र ने रिपोर्ट के लिए 'सेलेक्टिव तरीका' अपनाया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi