S M L

CBSE पेपर लीक: सरकारी संरक्षण में हो रहा है पेपर लीक: कांग्रेस

कांग्रेस ने पूछा, क्या कारण है जो पिछले 2 साल से सीबीएसई के अध्यक्ष का पद खाली पड़ा है

Updated On: Mar 29, 2018 03:12 PM IST

FP Staff

0
CBSE पेपर लीक: सरकारी संरक्षण में हो रहा है पेपर लीक: कांग्रेस

सीबीएसई पेपर लीक मामले में कांग्रेस ने गुरुवार को केंद्र सरकार से कई सवाल पूछे. इस मामले में सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कांग्रेस ने कहा कि सरकारी संरक्षण में पेपर लीक हो रहा है. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, व्यापमं और एसएससी के बाद सीबीएसई के तीन पेपर लीक हो गए हैं. छात्रों की माने तो अभी कुछ और पेपर लीक होने की आशंका है. 2017 में 12वीं क्लास की परीक्षा में मूल्यांकन में भी शिकायतें आई थीं. सुरजेवाला ने पूछा, क्या कारण है जो पिछले 2 साल से सीबीएसई के अध्यक्ष का पद खाली पड़ा था?

कांग्रेस ने कहा कि केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावडेकर और सीबीएसई की अध्यक्ष अनिता करवाल को हटाए बिना इस मामले में सही जांच संभव नहीं है.

सीबीएसई पेपर लीक मामले में गुरुवार को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और रविशंकर प्रसाद ने मीडिया को संबोधित किया. जावडेकर ने सीबीएसई के साफ-सुथरे रिकॉर्ड का बचाव किया और दिल्ली पुलिस की जांच में भरोसा जताया.

एक रिपोर्ट के मुताबिक गणित का जो पेपर बुधवार को होने वाला था उसकी एक कॉपी मंगलवार को ही लीक हो गई. पेपर लीक के इस कांड में पश्चिमी दिल्ली के एक कोचिंग संस्थान का नाम आ रहा है. कोचिंग सेंटर ने हालांकि किसी भी गड़बड़ी से इंकार किया है लेकिन एएनआई की रिपोर्ट बताती है कि सीबीएसई ने उस सेंटर के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी है.

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री जावडेकर ने कहा, यह बहुत दुखद घटना है. मैं मां-बाप और बच्चों का दर्द समझता हूं जिससे वे गुजर रहे हैं. पेपर लीक कांड में जो लोग भी शामिल हैं, वे बख्शे नहीं जाएंगे. पुलिस अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करेगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा, मैं भी एक बाप हूं. घटना सुनकर मैं सो नहीं पाया.

इससे पहले छात्रों ने जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया और मांग उठाई कि या तो सभी पेपर की परीक्षाएं फिर से हों, नहीं तो किसी पेपर की नहीं. छात्रों ने 'हमें चाहिए इंसाफ' का नारा लगाया.

इसी मामले में दिल्ली स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष रमेश चंद जैन ने कहा, सरकार को फौरन अपराधियों को पकड़ कर जेल में बंद करना चाहिए. सबसे पहले तो सिस्टम को दुरुस्त करना जरूरी है. सीबीएसई अध्यक्ष को तो कम से कम बयान देना चाहिए. उन्होंने अबतक छात्रों से या उनके मां-बाप से बात क्यों नहीं की. यह बहुत दुर्भाग्य की बात है.

दिल्ली पुलिस ने 12वीं का इकॉनोमिक्स और 10वीं का गणित पेपर लीक होने के मामले में दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए हैं. पेपर लीक की खबर चलने के बाद सीबीएसई ने इन दोनों पेपर की दोबारा परीक्षाएं कराने का ऐलान किया. ये मामले भरोसा तोड़ने, धोखा देने और आपराधिक साजिश रचने की धाराओं के तहत दर्ज किए गए हैं. इस मामले की जांच के लिए दिल्ली पुलिस की एक स्पेशल टीम बनाई गई है जिसमें दो डिप्टी कमिश्नर, चार असिस्टेंट कमिश्नर और पांच इंस्पेक्टर शामिल हैं. यह टीम ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस (क्राइम) को रिपोर्ट करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi