S M L

'भारत को 5 साल में 5,000 और 8 सालों में 10,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है'

पीयूष गोयल ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले पांच साल में अगली पीढ़ी के ढांचागत सुधार किए हैं. इसने दशकों के लिए ग्रोथ रेट का रास्ता तैयार किया है

Updated On: Feb 01, 2019 04:38 PM IST

FP Staff

0
'भारत को 5 साल में 5,000 और 8 सालों में 10,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है'

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को लोकसभा में मोदी सरकार का अंतरिम बजट पेश किया. ये इस लोकसभा का आखिरी बजट था. इस बजट के अपने संबोधन में पीयूष गोयल ने मोदी सरकार की अब तक की उपलब्धियां गिनाईं तो अगले 10 सालों तक के लिए विजन भी दिया.

पीयूष गोयल ने ये कहते हुए कि भारत विश्व की छठी अर्थव्यवस्था है, कहा कि सरकार का लक्ष्य अगले पांच सालों में इसे 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है.

गोयल ने बताया कि अगले पांच सालों में देश 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की ओर बढ़ रहा है और अगले आठ साल में इसको 10,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा गया है.

लोकसभा में 2019-20 का अंतरिम बजट पेश करते हुए गोयल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने पिछले पांच साल में अगली पीढ़ी के ढांचागत सुधार किए हैं. इसने दशकों के लिए ग्रोथ रेट का रास्ता तैयार किया है.

गोयल ने कहा, ‘हम अगले पांच साल में भारत को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की ओर अग्रसर हैं. अगले आठ साल में इसको 10,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य है.’

उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से उभरती हुई प्रमुख अर्थव्यवस्था है और पिछले 5 वर्षों में जीडीपी वृद्धि दर किसी भी पूर्ववर्ती सरकारों की तुलना में अधिक रही है.

उन्होंने कहा, ‘इस दौरान देश ने आर्थिक स्थर पर काफी स्थिर रहने का एक सर्वश्रेष्ठ दौर देखा है.’ उन्होंने कहा कि वर्ष 2013-14 में हम दुनिया की 11वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था थे और अब हम दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं.

(एजेंसी से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi