S M L

बजट 2017: 7 साल बाद रेलवे को 1 लाख करोड़ का सेफ्टी फंड

1 अप्रैल से आईआरसीटीसी से टिकट कटाने पर सर्विस टैक्स नहीं लगेगा

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Feb 01, 2017 06:07 PM IST

0
बजट 2017: 7 साल बाद रेलवे को 1 लाख करोड़ का सेफ्टी फंड

देश के इतिहास में पहली बार रेल बजट को आम बजट के साथ पेश किया गया. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि रेलवे सेफ्टी फंड के तहत एक लाख करोड़ रुपए का फंड मिलेगा. आईआरसीटीसी से टिकट कटाने पर सर्विस टैक्स नहीं लगेगा. आम बजट 2017-18 में रेलवे में एक लाख 31 हजार करोड़ निवेश किए जाएंगे. जिसमें से 55 हजार करोड़ सरकार देगी.

साल 2016-17 में यह रकम एक लाख 21 हजार करोड़ थी. इन सारी चीजों पर रेलवे बोर्ड के पूर्व चेयरमैन आर एन मल्होत्रा ने फ़र्स्टपोस्ट हिंदी से बात की.

आम बजट 2017-18 पर रेलवे बोर्ड के पूर्व चेयरमैन आर एन मल्होत्रा का कहना है कि सरकार रेलवे को स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट करना चाह रही है. ये क्यों करना चाह रही है, समझ में नहीं आ रहा है. अभी सिर्फ इरकान ही लिस्टेड है और कोई लिस्टेड नहीं है. आईआरएफसी और आईआरसीटीसी को शेयर मार्केट में लिस्टिंग की जाएगी. सेफ्टी फंड की बात कही गई है जो अच्छी बात है.

वाजपेयी सरकार के समय रेलवे बोर्ड के चेयरमैन रहे मल्होत्रा कहते हैं, जब नीतीश कुमार रेल मंत्री थे तब पहली बार हमलोगों ने 17 हजार करोड़ रुपए का सेफ्टी फंड रिलीज करवाया था. उस फंड को हम लोगों ने रेलवे लाइनों और सिग्नल सिस्टम के रिप्लेसमेंट में लगाया. वो पैसा 2006 तक खत्म हो गया था. उसके बाद जब लालू प्रसाद यादव रेल मंत्री बने तो रेलवे के अपने पैसे से ही इन चीजों पर खर्च किया जाता रहा है. 2009-10 के बाद रेलवे के पास पैसे नहीं थे. अब जबकि इस बजट में पैसे दिए गए हैं तो ये अच्छी बात है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi