S M L

परीक्षा पैटर्न में बदलाव की तैयरी में UGC, अधिकारियों से मांगे सुझाव

आयोग ने उच्च शिक्षण संस्थाओं में मूल्यांकन प्रक्रिया, परीक्षा परिणाम की घोषणा और रिजल्ट और डिग्रियां प्रदान करने के विषय पर भी राय मांगी है

Updated On: Jun 10, 2018 03:44 PM IST

Bhasha

0
परीक्षा पैटर्न में बदलाव की तैयरी में UGC, अधिकारियों से मांगे सुझाव

उच्च शिक्षा में सुधार के लिए यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) परीक्षा प्रणाली में ग्रेड और क्रेडिट ट्रांसफर, संतुलन पक्रिया, मांग आधारित परीक्षा, इंटरनल एक्जाम और एक्सटर्नल एग्जाम समेत परीक्षा पैटर्न में बदलाव की तैयारी कर रहा है.

यूजीसी के एक अधिकारी ने बताया कि कमीशन ने उच्च शैक्षिक संस्थानों में इन बदलावों के बारे में विभिन्न पक्षकारों से राय मांगी गई है. इस बारे में सुझाव 22 जून, 2018 तक भेजे जा सकते हैं.

उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए कमीशन ने सभी उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में परीक्षा सुधार के लिए विशेष विषयों पर स्पेशल ट्रीटमेंट अपनाने के लिए सुझाव मांगा है.

कमीशन ने परीक्षा प्रणाली में ग्रेड और क्रेडिट ट्रांसफर, संतुलन पद्धति, मांग आधारित परीक्षा, इंटरनल एक्जाम और एक्सटरनल एक्जाम के बारे में भी सुझाव मांगे गए हैं.

रिजल्ट और डिग्री देने पर भी मांगा सुझाव

यूजीसी ने एकेडमिक सुधार के मकसद से सभी ग्रेजुएट... पूर्व छात्रों की क्षमता की जांच के महत्व के बारे में राय मांगी है. आयोग ने उच्च शिक्षण संस्थाओं में मूल्यांकन प्रक्रिया, परीक्षा परिणाम की घोषणा और रिजल्ट और डिग्रियां प्रदान करने के विषय पर भी राय मांगी है.

अधिकारी ने बताया कि यूजीसी ने उच्च शैक्षणिक संस्थानों में अकादमिक सुधार लाने के लिए विविध सुधार और परिवर्तन किए हैं. पाठ्यक्रम का निर्माण, विकास और नियमित संशोधन यूजीसी की एक महत्वपूर्ण पहल है.

उन्होंने कहा कि परीक्षा सुधार कार्य इस दिशा में किए गए प्रमुख कार्य परिवर्तनों में से एक हैं. इन परिवर्तनों में परस्पर सामंजस्य के लिए परीक्षा प्रणाली में इन सुधार कार्यों को प्रस्तावित करने के लिए एक समिति का गठन किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi