S M L

कश्मीरः सेना की पेट्रोलिंग चौकी पर हमला, दो आतंकी समेत 5 की मौत

शोपियां जिले के सैदपुरा से एक और आतंकी का शव बरामद हुआ है. उसकी पहचान आशिक हुसैन भट्ट, लश्कर ए तैयबा आतंकी के तौर पर हुई है

Updated On: Mar 05, 2018 04:36 PM IST

Bhasha

0
कश्मीरः सेना की पेट्रोलिंग चौकी पर हमला, दो आतंकी समेत 5 की मौत

दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में शनिवार रात सेना की एक मोबाइल पेट्रोलिंग चौकी पर आतंकियों ने हमला कर दिया. इस घटना में दो आतंकवादी सहित पांच लोग मारे गए.

एक और आतंकी का शव बरामद

दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के सैदपुरा से एक और आतंकी का शव बरामद हुआ है. उसकी पहचान आशिक हुसैन भट्ट, लश्कर ए तैयबा आतंकी के तौर पर हुई है. वो पिछले साल 13 दिसंबर से गायब था. खबर है कि पाकिस्तानी आतंकी नावेद जट्ट भी मारा गया है. हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं हुई है. बता दें कि नावेद कुछ दिन पहले श्रीनगर के एक हॉस्पिटल से दो पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार हो गया था.

मौके से सोमवार सुबह एक और शव बरामद हुआ. इसी के साथ शोपियां जिले में बीती रात हुई गोलीबारी में मरने वालों की संख्या पांच हो गई. पुलिस प्रवक्ता ने कहा, ‘पाहनू शोपियां में घटनास्थल से कुछ दूरी पर एक और शव मिला.’ उन्होंने बताया कि मृतक की पहचान शोपियां के चित्रागाम निवासी गौहर अहमद लोन के रूप में हुई है. सूत्रों ने बताया कि लोन का शव एक कार से बरामद हुआ.

12 राष्ट्रीय राइफल के कमांडेंट डीएस नेगी ने बताया कि पहले जिस आतंकी का शव मिला था वह लश्कर-ए-तोयबा का सदस्य था. सोमवार सुबह जिस आतंकी का शव मिला वह भी लश्कर का सदस्य निकला. दोनों क्लास बी के आतंकवादी थे.

रुकने का इशारा किया तो बरसा दी गोलियां

इससे पहले, पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि शोपियां के पोहन में मोबाइल पेट्रोलिंग चौकी ने एक कार को रुकने का इशारा किया पर कार नहीं रुकी. दूसरी तरफ से सुरक्षा बलों पर गोली चलाई गई. सेना ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें एक आतंकवादी मारा गया. आतंकवादी के पास से एक हथियार और एक थैली मिली.

अधिकारी ने बताया कि जब पुलिस को बुलाया गया तो उन्हें कुछ दूरी पर एक कार मिली जिसमें तीन लड़के मरे मिले. अधिकारी ने बताया कि यह पता लगाया जा रहा है कि क्या ये तीनों लड़के आतंकवादी के सहयोगी थे?

उधर श्रीनगर में रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि मारे गए तीनों लड़के आतंकी के सहयोगी थे. तीनों लोकल थे और शोपियां के त्रेंज, पिंजूरा और इमामसाहिब इलाके के रहने वाले थे. कालिया ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में मारे गए आतंकी की पहचान शाहिद अहमद डार के रूप में हुई है जो कि शोपियां के जामनगरी का रहने वाला था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi