S M L

पासिंग आउट परेडः हरियाणा की दो लड़कियों को शीर्ष सम्मान

लगभग 200 पुरुष कैडेटों को पछाड़ते हुए दोनों लड़कियों ने बाजी मारी है

FP Staff Updated On: Mar 11, 2018 08:31 PM IST

0
पासिंग आउट परेडः हरियाणा की दो लड़कियों को शीर्ष सम्मान

भारतीय सेना के इतिहास में शनिवार को एक और अध्याय जुड़ गया. पासिंग आउट परेड में पहले दो स्थान पर लड़कियों ने बाजी मारी है. ये दोनों ही लड़कियां हरियाणा की है. नाम है प्रीती चौधरी और वृत्ति.

सेना के अधिकारियों को ट्रेनिंग देने वाले प्रतिष्ठित संस्थान ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के शीर्ष सम्मान में स्वॉर्ड ऑफ ऑनर भी है, जो मेरिट लिस्ट में पहले नंबर पर रहे कैडेट को मिलता है. यहां लगभग 200 पुरुष कैडेटों को पछाड़ते हुए दोनों लड़कियों ने बाजी मारी है.

द हिंदू में छपी खबर के मुताबिक चेन्नई स्थित एकेडमी में शनिवार को पासिंग आउट परेड के दौरान एकेडमी कैडेट एजुटेंट प्रीति चौधरी को स्वॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया, जबकि सीनियर अंडर ऑफिसर वृत्ति को सिल्वर मेडल दिया गया.

प्रीति चौधरी पानीपत से हैं। उनके पिता इंदर सिंह आर्मी से ऑनररी कैप्टन के तौर पर रिटायर हुए थे, जबकि उनकी मां सुमता टीचर हैं. वृत्ति के पिता बैंक में हैं, जबकि मां लेक्चरर हैं.

कुल 255 कैडेट बने सेना के अधिकारी 

एकेडमी के 55 साल के इतिहास में सिर्फ तीसरी बार किसी महिला कैडेट को स्वॉर्ड ऑफ ऑनर मिला है. 2010 में पहली बार दिव्या अजीत कुमार को, जबकि 2015 में एम अंजना को यह सम्मान मिला.

महिला कैडेट के तौर पर जॉइन करने से पहले वृत्ति ने जापान में डिजाइन इंजिनियर की नौकरी कर रही थी. वहीं उनकी बहन दिल्ली मेट्रो में असिस्टेंट मैनेजर हैं.

पासिंग आउट परेड के दौरान कुल 255 कैडेटों को भारतीय सेना के अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया. इसमें 196 पुरुष कैडेटों और 37 महिला कैडेट शामिल हैं. इसके साथ ही भूटान से पांच कैडेट, अफगानिस्तान के नौ और ताजिकिस्तान से आठ कैडेटों ने अपनी ट्रेनिंग पूरी की.

समारोह के दौरान अरुणाचल प्रदेश में ड्यूटी के दौरान शहीद मेजर नीरज कुमार पांडे की पत्नी सुष्मिता पांडे और जम्मू कश्मीर में शहीद मेजर अमित देशवाल की पत्नी नीता देशवाल भी मौजूद रहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi