S M L

मुस्लिम महिलाओं के सम्मान का ऐतिहासिक दिन: अमित शाह

अमित शाह ने इसे ऐतिहासिक कदम बताते हुए कहा है कि ये मुस्लिम महिलाओं के सम्मान के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध कानून होगा

Updated On: Dec 28, 2017 10:22 PM IST

FP Staff

0
मुस्लिम महिलाओं के सम्मान का ऐतिहासिक दिन: अमित शाह

बहुप्रतीक्षित तीन तलाक बिल के गुरुवार को लोकसभा में पास होने का भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने स्वागत किया है. अमित शाह ने इसे ऐतिहासिक कदम बताते हुए कहा है कि ये मुस्लिम महिलाओं के सम्मान के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध कानून होगा. उन्होंने कहा मैं उन सभी सांसदों का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने इस बिल को पास होने में मदद की. ये कानून मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी में नई आशा और सम्मान का संचार करने वाला होगा.

गौरतलब है कि गुरुवार को तीन तलाक बिल लोकसभा में 242 के मुकाबले 2 की वोटिंग के साथ पास हो गया. ऑल इंडिया इत्तेहादुल मुसलमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने दो संशोधन प्रस्तावित किए थे लेकिन दोनों ही संशोधन खारिज हो गए. इसके अलावा कांग्रेस की सुष्मिता देव द्वारा प्रस्तावित संशोधन भी खारिज हो गया. अब ये बिल राज्यसभा में पास होना बाकी है. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में इस बिल के पास होने के लिए  पूरी आशा जताई है.

वहीं कांग्रेसी सांसद सुष्मिता देव ने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक पर रोक इसलिए लगाई थी जिससे तलाक लेने वाले जोड़े को और समय मिल सके. आप इस बिल को देखिए. इस बिल के कानून के रूप में लागू होने के बाद तीन तलाक नॉन बेलेबल ऑफेंस हो जाएगा. समझौते का कोई मौका ही नहीं रहेगा. मैं एक संशोधन मुस्लिम महिलाओं के हित में ही दिया था लेकिन वो खारिज हो गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi