S M L

TRAI अध्यक्ष ने सोशल मीडिया पर आधार नंबर शेयर कर दी चुनौती, मिनटों में लीक हुआ प्राइवेट डेटा

आरएस शर्मा आधार परियोजना के सबसे बड़े समर्थकों में से एक माने जाते हैं और यही कारण है कि उन्होंने सोशल मीडिया पर अपना आधार नंबर शेयर करते हुए लोगों को चुनौती दे डाली

Updated On: Jul 29, 2018 11:26 AM IST

FP Staff

0
TRAI अध्यक्ष ने सोशल मीडिया पर आधार नंबर शेयर कर दी चुनौती, मिनटों में लीक हुआ प्राइवेट डेटा

ऐसे कई लोग हैं जिनके मन में एक न एक बार यह सवाल जरूर उठता होगा कि भला आधार नंबर जानकर किसी को कोई कैसे नुकसान पहुंचा सकता है? ऐसा ही एक सवाल भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के अध्यक्ष और आधार प्रणाली के सबसे बड़े समर्थकों में से एक आरएस शर्मा के मन में भी उठा.

उन्होंने इस सवाल का जवाब जानने के लिए सोशल मीडिया पर एक चुनौती भरा पोस्ट लिखा. लेकिन यही पोस्ट आगे जाकर उन्हीं पर भारी पड़ गया.

आरएस शर्मा ने क्या कहा था?

दरअसल आरएस शर्मा ने आधार की सुरक्षा का दावा करते हुए अपना आधार नंबर सोशल मीडिया पर शेयर किया था. इसे शेयर करते हुए उन्होंने चुनौती दी थी की इस आधार नंबर से कोई उनका डेटा लीक कर के दिखाए. उन्होंने लिखा, 'मेरा आधार नंबर 762177682740 है. मैं चुनौती देता हूं कि आप कोई ठोस उदाहरण दें कि इसे जानकर आप मुझे कोई नुकसान पहुंचा सकते हैं.'

लेकिन उनकी चुनौती के कुछ घंटों बाद ही उनकी निजी गोपनीय जानकारियां लीक हो गई.

एल्डरसन ने कैसे दिया जवाब

इलियट एल्डरसन नाम के फ्रांस के एक सुरक्षा विशेषज्ञ, जिनका ट्विटर हैंडल '@एफएसओसी131वाई' है, उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट कर शर्मा के आधार नंबर के जरिए उनके निजी जीवन से जुड़ी कई जानकारियां जुटाकर सोशल मीडिया पर उसे शेयर कर दीं. इसमें शर्मा का पता, जन्मतिथि, वैकल्पिक फोन नंबर जैसे डेटा शामिल थे. उन्होंने इन जानकारियों को शेयर करते हुए शर्मा को बताया कि आधार संख्या को सार्वजनिक करने के क्या खतरे हो सकते हैं.

एल्डरसन ने लिखा, 'आधार संख्या असुरक्षित है. लोग आपका निजी पता, वैकल्पिक फोन नंबर से लेकर काफी कुछ जान सकते हैं. मैं यही रुकता हूं. मैं उम्मीद करता हूं कि आप समझ गए होंगे कि अपना आधार संख्या सार्वजनिक करना एक अच्छा विचार नहीं है.'

adhhar

एल्डरसन यहीं नहीं रुके. उन्होंने आधार संख्या की मदद से शर्मा के निजी फोटो तक ढूंढ़ निकाले और ट्वीट कर प्रकाशित करते हुए लिखा, 'मैं समझता हूं कि इस तस्वीर में आपकी पत्नी और बेटी हैं.'

आधार परियोजना के सबसे बड़ समर्थकों में से एक हैं शर्मा

बता दें कि आरएस शर्मा, आधार परियोजना के सबसे बड़े समर्थकों में से एक माने जाते हैं. उनका अभी भी कहना है कि यह विशिष्ट संख्या किसी की निजता का उल्लंघन नहीं करता है और सरकार को इस तरह के डेटा बेस बनाने का अधिकार है, ताकि वो सरकारी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत देश के नागरिकों को सब्सिडी दे सकें.

वही एंडरसन आधार डेटा प्रणाली की सुरक्षा से जुड़ी खामियों का खुलासा करने के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने शर्मा से जुड़ी कई सारी जानकारियां और तस्वीरें प्रकाशित की, हालांकि उनमें कई संवेदनशील हिस्सों को ब्लर कर प्रकाशित किया, ताकि शर्मा की निजता को कोई नुकसान न हो. उनके द्वारा प्रकाशित तस्वीरों में शर्मा का पैन कार्ड भी शामिल था, हालांकि उसके नंबरों को एंडरसन ने ब्लर (धुंधला) कर दिया था.

(न्यूज़18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi