S M L

हिमाचल प्रदेश: भारी बारिश और बर्फबारी में फंसे 3,600 से ज्यादा लोग

हालांकि अभी भी बीबीएमबी के अधिकारियों ने पोंग बांध से 49,000 क्यूसेक पानी छोड़ने का फैसला किया है

Updated On: Sep 25, 2018 03:34 PM IST

FP Staff

0
हिमाचल प्रदेश: भारी बारिश और बर्फबारी में फंसे 3,600 से ज्यादा लोग

हिमाचल प्रदेश के कई राज्यों में भारी बारिश और बर्फबारी के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. राज्य के लाहौल और स्पीति जिलों में 700 से ज्यादा लोग बाढ़ के कारण फंसे हुए हैं. वहीं चंबा जिले में 3,000 लोग फंसे हुए हैं जिनमें से एक हजार लोग असम के रहने वाले हैं.

हालांकि अभी भी भाखड़ा बांध प्रबंधन बोर्ड (बीबीएमबी) के अधिकारियों ने पोंग बांध से 49,000 क्यूसेक पानी छोड़ने का फैसला किया है. उनका कहना है कि पानी 1386.84 फीट तक पहुंच गया है जबकि यह खतरे के निशान 1390 फीट से कुछ ही फीट कम है.

बाढ़ के कारण फंसे हुए लोगों को बचाने के लिए वायू सेना हैलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रही है. हिमाचल परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर जल्द ही स्थिति का जायजा लेने भंटार आएंगे.

36 घंटे में बढ़ा 11.11 फीट पानी

पिछले 36 घंटों में बांध के पानी का स्तर 11.11 फीट बढ़ने के बाद पानी छोड़ने का फैसला लिया गया था. बीबीएमबी सहायक डिजाइन इंजीनियर (एडीई) अरुण भाटिया ने कहा कि बांध से 49,000 क्यूसेक पानी मंगलवार को 3 बजे जारी किया जाएगा.

हालांकि उन्होंने कहा कि अभी डरने की जरूरत नहीं है. बावजूद इसके हिमाचल प्रदेश और पड़ोसी पंजाब में निचले इलाकों के निवासियों को सतर्क रहने के आदेश दिए गए हैं. अधिकारियों से भी तैयार रहने के लिए कहा गया है.

इस बीच, रुड़की इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) के 35 छात्रों सहित हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी लाहौल और स्पीति जिले में ट्रेकिंग के दौरान गायब हो गए पचास लोगों को बचा लिया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi