S M L

बस, हज हाउस के बाद अब भगवा में रंगे जा रहे शौचालय

इटावा के अमृतपुर गांव के लोगों ने अब तक 100 शौचालयों पर भगवा रंग चढ़ा दिया है

FP Staff Updated On: Jan 11, 2018 03:08 PM IST

0
बस, हज हाउस के बाद अब भगवा में रंगे जा रहे शौचालय

यूपी के हज हाउस पर भगवा रंग चढ़ने का बवाल अभी थमा नहीं था कि अब यूपी के शौचालयों पर भगवा विवाद का साया मंडराने लगा है. इटावा की ग्राम पंचायत के शौचालयों को भगवा रंग से पोतने की तस्वीरें सामने आ रही हैं. ये शौचालय स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्राम पंचायत की ओर से बनवाए गए हैं.

इटावा के अमृतपुर गांव के लोगों ने अब तक 100 शौचालयों पर भगवा रंग चढ़ा दिया है. यहां कुल 350 शौचालय हैं. ग्रामीणों का मानना है कि शौचालयों को भगवा रंग में देखकर सीएम योगी खुश होंगे जिससे इन इलाकों के विकास कार्यों में तेजी आएगी. स्थानीय लोगों ने बताया, शौचालयों को भगवा करने का फैसला सबकी सहमति से लिया गया है और किसी को भी इसपर ऐतराज नहीं है.

अमृतपुर गांव के प्रधान वेद पाल ने पत्रकारों से बताया, "350 में से 100 शौचालयों को भगवा कर दिया गया है और बाकियों को भी जल्द किया जाएगा. इन्हें भगवा करने का फैसला किसी दबाव में नहीं लिया गया है. हम जानते हैं कि ये सीएम योगी का पसंदीदा रंग है. ग्रामीणों को भरोसा है कि भगवा शौचालय देखकर राज्य सरकार गांव में विकास कार्य में तेजी लाएगी."

हज हाउस का भगवा रंग

5 जनवरी को असेंबली के नजदीक हज हाउस की दीवारों को भगवा कर दिया गया था, जिसका काफी विरोध हुआ. इससे पहले हज हाउस की बाउंड्री हरे-सफेद रंग की हुआ करती थी.

विवाद बढ़ने पर यूपी राज्य हज कमेटी के सेक्रेटरी आरपी सिंह ने इसके लिए ठेकेदार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने बताया कि पुताई करने वाले ठेकेदार ने बताए गए रंग से अलग गाढ़ा रंग इस्तेमाल किया.

केसरिया रंग को तवज्जो

योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने के बाद से सरकार केसरिया रंग को खासा तवज्जो दे रही है. इसी को देखते हुए सचिवालय भवन को भी भगवा में रंगा गया है. यहां तक की सरकारी पोस्टर भी भगवा रंग में पटे दिख रहे हैं.

इतना ही नहीं, योगी सरकार के आने के बाद भगवा बसें भी शुरू हुई हैं. गोरक्षनाथ मंदिर के महंत होने के नाते मुख्यमंत्री खुद भगवा कपड़ों में नजर आते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi