S M L

दिल्ली में बिजली के दाम बढ़ाने की तैयारी

जानकारों का कहना है कि दिल्ली में बिजली की चोरी 60 फीसदी से घटकर 12 फीसदी पर आ गई है

FP Staff Updated On: Aug 31, 2017 05:29 PM IST

0
दिल्ली में बिजली के दाम बढ़ाने की तैयारी

2014 के बाद आज गुरुवार को एक बार फिर बिजली दिल्लीवासियों को झटका दे सकती है. दिल्ली में आज बिजली के दाम बढ़ने की उम्मीद है. शाम को दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) की इस संबंध में एक बैठक होने जा रही है. बैठक में खपत के हिसाब से बिजली यूनिट के रेट बढ़ाए जा सकते हैं.

मौजूदा वक्त में 200 यूनिट तक 4 रुपये प्रति यूनिट चार्ज लिया जाता है. वहीं 201 से 400 यूनिट के 5.95 रुपये प्रति यूनिट, 401 से 800 के 7.30 रुपये प्रति यूनिट, 801 से 1200 के 8.10 रुपये प्रति यूनिट और 1200 यूनिट से अधिक पर 8.75 रुपये प्रति यूनिट चार्ज लिया जाता है.

लेकिन खास बात ये है कि दिल्ली सरकार 400 यूनिट खपत तक दिल्लीवासियों को 50 प्रतिशत की सब्सिडी देती है. 401 यूनिट आने पर सब्सिडी का लाभ नहीं मिलता है. जानकारों की मानें तो पिछले तीन साल में 29 राज्यों में बिजली के दाम बढ़ चुके हैं.

लेकिन दिल्ली में 2014 के बाद से अभी तक दाम नहीं बढ़ाए गए हैं. कुछ राज्यों में तो 30 प्रतिशत तक दाम बढ़ाए गए हैं. जबकि दिल्ली में 2014 में 5 प्रतिशत दाम बढ़ाए गए थे. तीन निजी बिजली कंपनियों को मिलाकर बात करें तो रेवन्यू गैप 34 हजार करोड़ रुपये पहुंच गया है.

बिजली के दाम बढ़ाने को लेकर डीईआरसी ने 19 जुलाई को जनसुनवाई की थी. वहीं बिजली कंपनियों का कहना है कि बिजली टैरिफ का 85 फीसदी पैसा बिजली खरीदने में खर्च होता है. जिसकी बड़ी वजह है लांग टाइम पर्चेज एग्रीमेंट करना.

ये एग्रीमेंट दिल्ली में बिजली के निजीकरण से पहले किया गया था, इसलिए दिल्ली में बिजली महंगी है. जानकारों का कहना है कि दिल्ली में बिजली की चोरी 60 फीसदी से घटकर 12 फीसदी पर आ गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi