S M L

अपनाएं ये 6 टिप्स और त्योहार के इस सीजन में खुलकर खाएं मीठा

भारत में लोगों का मिठाइयों से अटूट रिश्ता है, तो शुगर-डायबिटीज के चक्कर में मीठे से डरना क्यों?

Updated On: Sep 04, 2017 10:34 AM IST

FP Staff

0
अपनाएं ये 6 टिप्स और त्योहार के इस सीजन में खुलकर खाएं मीठा

हमारे देश में आए दिन कोई न कोई त्योहार होता है. और त्योहार का मतलब है ढेर सारी मिठाई. इसी कारण भारत में लोगों का मिठाई से अलग ही रिश्ता है. मिठाइयों में एक खास तरह का फ्लेवर होता है जो भारत के त्योहारों की रौनक बढ़ा देता है.

sweet

खुद सोचिए आप मोदक के बिना गणेश चतुर्थी, फ्रूट केक के बिना क्रिसमस और मिठाइयों के बिना दिवाली और रक्षाबंधन के बारे में सोच सकते हैं? लेकिन मिठाइयों के सीजन में अपनी सेहत का खयाल रखना भी बेहद जरूरी है. ज्यादा मीठा खाना भी ठीक नहीं है. खासतौर पर जिनके डायबिटीज है, उन्हें तो जरूर से एहतियात बरतना चाहिए.

RASMALAI

लेकिन अगर आप अपनी सेहत को नुकसान पहुंचाए बिना और डायबिटीज होने के बाद भी त्योहारों में मिठाइयों का लुत्फ उठाना चाहते हैं, तो आपको ये पांच टिप्स जरूर अपनाने चाहिए...

-एक बार में ज्यादा मात्रा में खाना न खाए , थोड़ा-थोड़ा करके खाए.

बल्ड शुगर चेक करने के लिए मीटर का प्रयोग करें.

बाजार के बजाय घर की बनी मिठाइयां खाएं.

नियमित रूप से सुबह उठकर एक्सरसाइज करें.

मिठाई बनाने के लिए चीनी की जगह सीमित मात्रा में सिंथेटिक स्वीटनर का प्रयोग करें

बेसन के लड्डू, पिन्नियां, बालूशाही जैसी बिना चाशनी की मिठाइयों का सेवन करें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA
Firstpost Hindi