S M L

इस वजह से तिब्बतियों ने कहा- 'थैंकू यू इंडिया'

दलाई लामा ने कहा कि जब वो भारत आए थे तब दोनों देशों के रिश्ते गुरु और शिष्य के थे और वही भावना अब भी बरकरार है

Updated On: Mar 31, 2018 08:53 PM IST

FP Staff

0
इस वजह से तिब्बतियों ने कहा- 'थैंकू यू इंडिया'

आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा को तिब्बत से भारत आए 60 साल हो गए हैं. वह अपने वतन से दूर निर्वासित जीवन बिता रहे हैं. लेकिन संघर्ष के दौर में भी वह अपनी लड़ाई में भारत के सहयोग को वो नहीं भूले हैं. इसलिए धर्मशाला में शनिवार से एक बड़ा समारोह शुरू हुआ है जिसका नाम तिब्बतियों ने 'थैंक यू इंडिया' रखा है. यह समारोह पूरे एक साल तक चलेगा. इस कार्यक्रम का आयोजन तिब्बतियों की निर्वासित सरकार यानी सेन्ट्रल तिब्बतन एडमिनिस्ट्रेशन ने किया है. इसका मुख्यालय मैक्लॉडगंज में है.

चीन के साथ बनते-बिगड़ते संबंधों के बीच जाहिर है कि सरकार इस कार्यक्रम में सक्रिय नहीं दिखना चाहती थी. इसलिए एक एडवाइजरी निकाली गई जिसमें कहा गया था वरिष्ठ मंत्री और सरकारी अधिकारी इसमें भाग लेने से बचें. सूत्र बताते हैं कि इसी कारण से तिब्बतियों ने दिल्ली में कार्यक्रम करने की योजना बनाई थी लेकिन उन्हें इसे अपनी राजधानी में आयोजित करना पड़ा. साफ ये भी है कि सरकार अंतरराष्ट्रीय समुदाय को ऐसा कोई संदेश नहीं देना चाहती थी कि वह पीछे हट गई है इसलिए केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा और बीजेपी के महासचिव राम माधव थैंक यू इंडिया के उद्घाटन कार्यक्रम में भाग लेने धर्मशाला में ही थे और दलाई लामा के साथ कंधे से कंधा मिलाकर समारोह का हिस्सा बने.

60 साल पहले इस व्यक्ति ने किया था दलाई लामा का स्वागत

दलाई लामा ने कहा कि जब वो भारत आए थे तब दोनों देशों के रिश्ते गुरु और शिष्य के थे और वही भावना अब भी बरकरार है. संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने भी तिब्बत की जनता को यही संदेश दिया कि भारत उनके साथ है. डॉक्टर महेश शर्मा ने कहा कि थैंक यू कहने की जरूरत नहीं बल्कि निर्वासित शब्द भी दर्द ही देता है इसलिए तिब्बत के लोग हमारे दोस्त हैं और देश के मेहमान भी. राम माधव ने कहा कि एक निर्वासित का जीवन कठिन तो होता ही है लेकिन हमने खुले दिल से तिब्बत के लोगों का स्वागत किया है.

थैक यू इंडिया समारोह के मौके पर दलाई लामा ने नरेन चंद्र दास को सम्मानित किया. नरेन वो अकेले व्यक्ति बचे हैं जिन्होंने 1959 में दलाई लामा का स्वागत किया था. इस मौके पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता शांता कुमार और कांग्रेस के नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी भी मौजूद थे.

(न्यूज18 के लिए अमिताभ सिन्हा की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi