S M L

हिजबुल कमांडर मनन वानी के जनाजे में नमाज पढ़ रहे AMU के तीन छात्र सस्पेंड

वानी अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्र था और उसके जनाजे पर नमाज पढ़ रहे छात्र भी उसी यूनिवर्सिटी के थे

Updated On: Oct 12, 2018 11:50 AM IST

FP Staff

0
हिजबुल कमांडर मनन वानी के जनाजे में नमाज पढ़ रहे AMU के तीन छात्र सस्पेंड

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा एनकाउंटर में मारे गए हिजबुल कमांडर मनन वानी के जनाजे की नमाज पढ़ने के दौरान अनुशासनहीनता करने पर एएमयू प्रशासन ने तीन कश्मीरी छात्रों को सस्पेंड कर दिया है. वानी अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्र था और उसके जनाजे पर नमाज पढ़ रहे छात्र भी उसी यूनिवर्सिटी के थे.

वानी के मारे जाने की खबर के बाद एएमयू के केनेडी हॉल में लगभग 15 छात्र एकत्रित हुए थे. सभी उसके जनाजे की नमाज पढ़ने वाले ते. इस बीच तीन कश्मीरी छात्र अनुशासनहीनता पर उतर आए. इन छात्रों ने नियमों का उल्लंघन कर के गैरकानूनी तरीके से सभा बुलाई थी.

इन तीन छात्रों के अलावा प्रशासन ने चार और छात्रों पर कार्रवाई करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर किया है. यूनिवर्सिटी ने सभी छात्रों को चेताते हुए कहा है कि यूनिवर्सिटी परिसर में किसी भी तरह की राष्ट्रविरोधी गतिविधियां बर्दाश्त नहीं की जाएंगी.

आतंकवादी संगठन में शामिल होने के बाद ही यूनिवर्सिटी से निकाल दिया गया था वानी

साथ ही उन्होंने वानी के एएमयू से कनेक्शन पर सफाई देते हुए कहा कि उसके आतंकवादी संगठन में शामिल होने के बाद से हमने उसे कॉलेज से निष्काषित कर दिया था. उसका यूनिवर्सिटी से कोई संबंध नहीं था. बीते गुरुवार को कुपवाड़ा में हुए एनकाउंटर के दौरान वानी को सेना ने मार गिराया था.

इस पर हुर्रियत नेता मीरवाइज ने ट्वीट कर कहा था 'अफसोस! मनन वानी और उनके साथियों की शहादत की दुखद खबर सुनी. बहुत दुखद है कि हमने उसके जैसे एक बुद्धिमान लेखक खो दिया है. वह आत्म संकल्प के लिए लड़ रहा था. JRL ने वानी को श्रद्धांजलि देने के लिए शुक्रवार को बंद का अह्वान किया है.'

वहीं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा 'आज एक पीएचडी स्कॉलर की एनकाउंटर में मौत हो गई. उसकी मौत हमारा घाटा है. हम रोजाना अपने शिक्षित युवाओं को खो रहे हैं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi