S M L

दिल्ली एयरपोर्ट पर फंसे मुसाफिर: पावर बैंक, लाइटर ने थामी विमानों की रफ्तार

संदिग्ध बैंगों की तलाशी और प्रतिबंधि वस्तुओं को हटाने से बैगेज हैंडलिंग पर असर पड़ा

Updated On: Mar 30, 2018 10:01 AM IST

FP Staff

0
दिल्ली एयरपोर्ट पर फंसे मुसाफिर: पावर बैंक, लाइटर ने थामी विमानों की रफ्तार

दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (आईजीआई) के टर्मिनल- 3 पर गुरुवार को कई यात्रियों को ‘बैगेज क्लिरेंस’ में दिक्कतों का सामना करना पड़ा. इसके चलते एयरपोर्ट पर लंबी कतारें लग गईं और उड़ानों में देर हुई.

विस्तारा एयरलाइंस ने गुरुवार शाम एक बयान जारी कर कहा कि‘ बैगेजहैंडलिंग सिस्टम’ में कुछ गड़बड़ी से उड़ानों में देरी हुई. विमानों में बैग नहीं रखे गए और एयरलाइन ने एयरपोर्ट अधिकारियों से शिकायत की.

आईजीआई एयरपोर्ट के संचालन का जिम्मा एमजीआर की कंपनी डायल इंटरनेशनल एयपोर्ट लिमिटेड को है. डायल के एक अधिकारी ने बैगेज क्लिरेंस में देरी के लिए ‘बड़ी मात्रा में खतरनाक वस्तुओं’ खासतौर पर पावर बैंक और लाइटर को जिम्मेदार ठहराया. यात्रियों के सामान में ये चीजें थी.

बाकी दिनों की तुलना में गुरुवार को ये वस्तुएं 30 प्रतिशत अधिक थीं क्योंकि लंबी छुट्टी के कारण यात्रियों की संख्या अधिक थी. डायल के प्रवक्ता ने बताया कि संदिग्ध बैंगों की तलाशी और प्रतिबंधि वस्तुओं को हटाने से बैगेज हैंडलिंग पर असर पड़ा. यात्रा करने वाले कई लोंगों ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा जाहिर किया.

बीजेपी की लोकसभा सदस्य हेमा मालिनी भी उन यात्रियों में शामिल थीं जिनका बैग अटक गया था. ऐसी भी खबरें हैं कि समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव का बैग भी अटक गया था. रेल मंत्री पीयूष गोयल भी मुंबई में एक कार्यक्रम में देरी से पहुंचे. सूत्रों ने बताया कि विमान के देरी से उड़ान भरने के चलते ऐसा हुआ.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi