S M L

मोबाइल फोन में खोए रहने वालों के रिश्ते बिगड़ने का खतरा

ब्रिटेन में मनोचिकित्सकों ने किसी को नजरअंदाज करते हुए अपने फोन में लगे रहने वाले लोगों पर इसके प्रभाव का अध्ययन किया. उन्होंने इसे फबिंग का नाम दिया है

Updated On: Mar 27, 2018 04:25 PM IST

Bhasha

0
मोबाइल फोन में खोए रहने वालों के रिश्ते बिगड़ने का खतरा

अगर आप किसी के साथ होते हुए भी उसके साथ नहीं हैं यानी उससे बात करने के बजाय नजरें मोबाइल फोन में गड़ाए रहते हैं तो सावधान हो जाइए.

एक रिसर्च में पता चला है कि दूसरों को नजरअंदाज करके अपने सेलफोन में मग्न रहने (फबिंग) से रिश्तों पर नकारात्मक असर पड़ सकता है.

ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ केंट के मनोचिकित्सकों ने किसी को नजरअंदाज करते हुए अपने फोन में लगे रहने वाले लोगों पर इसके प्रभाव का अध्ययन किया. उन्होंने इसे फबिंग का नाम दिया है.

उन्होंने पाया कि फबिंग बढ़ने से आपसी संबंधों पर नकारात्मक असर पड़ता है.

उन्होंने 153 लोगों को इस रिसर्च में शामिल किया जिन्हें दो लोगों की बातचीत के एनिमेशन को देखने के लिए कहा गया. और साथ ही यह मानने के लिए कहा गया कि उनमें से एक वह खुद हैं.

हर भागीदार को तीन अलग-अलग तरह की स्थिति दी गई. बिल्कुल भी फबिंग नहीं, आंशिक फबिंग या पूरी तरह से फबिंग.

नतीजों में पता चला कि जैसे ही फबिंग का स्तर बढ़ा तो लोगों की मूल जरुरतों पर खतरा पैदा हो गया. उनकी संवाद गुणवत्ता खराब रही और उनके रिश्ते ज्यादा संतोषजनक नहीं रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi