S M L

दिल्ली छेड़छाड़ मामला: एक शिकायत से बदल गई सरवजीत की जिंदगी लेकिन गुनाह का सबूत नहीं

जसलीन कौर ने सरवजीत पर यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. उस वक्त यह रिपोर्ट करने वाले टाइम्स नाउ के पूर्व पत्रकार ने माफी मांग ली है लेकिन सरवजीत के लिए असली इंसाफ क्या होगा?

Updated On: Sep 10, 2018 11:35 AM IST

FP Staff

0
दिल्ली छेड़छाड़ मामला: एक शिकायत से बदल गई सरवजीत की जिंदगी लेकिन गुनाह का सबूत नहीं
Loading...

तीन साल पहले सरवजीत सिंह का क्रिमिनल रिकॉर्ड शुरू हुआ. 28 साल के सरवजीत के खिलाफ स्टीफेंस कॉलेज की पूर्व छात्रा जसलीन कौर ने यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया. उस वक्त इस घटना की रिपोर्ट करने वाले टाइम्स नाउ के पूर्व पत्रकार ने सरवजीत से माफी तो मांग ली लेकिन उनका बीत वक्त उन्हें कोई लौटा नहीं सकता है. सरवजीत की जंग अभी जारी है.

क्या कहना है सरवजीत का?

सरवजीत का कहना है कि वह अपने नाम के पीछे से क्रिमिनल का टैग कभी नहीं हटा पाएगा. उनका कहना है कि जसलीन कौर की एक शिकायत से उनकी जिंदगी बदल गई लेकिन इन तीन साल में कभी भी कोर्ट में सुनवाई के दौरान जसलीन नहीं पहुंची हैं.

यह किसी को नहीं पता कि सरवजीत ने 3 साल पहले कोई अपराध किया था या नहीं, लेकिन उसे आज भी इसकी सजा मिल रही है. आज भी वह नौकरी के लिए संघर्ष कर रहा है, दिल्ली से बाहर जाने के लिए उसे हर बार पुलिस स्टेशन के चक्कर लगाने पड़ते हैं और उसे पासपोर्ट भी नहीं मिल पा रहा है. उसके खिलाफ शिकायत दर्ज होने के बाद भी इस मामले में कोर्ट में बहस आगे नहीं बढ़ पाई है. द प्रिंट में छपे इंटरव्यू के बाद टाइम्स नाओ के जर्नलिस्ट ने तो सरवजीत सिंह से माफी मांग ली है लेकिन अब उस लड़के की आगे की जिंदगी का क्या होगा.

जसलीन 3 साल में एक बार भी नहीं पहुंची कोर्ट

दरअसल सरवजीत के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाने वाली सेंट स्टीफेंस कॉलेज की पूर्व छात्रा जसलीन कौर ने 3 साल में एक बार भी कोर्ट की सुनावई में अपनी उपस्थिती दर्ज नहीं करवाई है. 3 साल में अब तक 13 बार सुनावाई हो चुकी है. सुनवाई में मौजूद न होने के कारण 28 अगस्त 2018 को जसलीन के खिलाफ दिल्ली के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने बेलेबल वारेंट जारी किया था. द प्रिंट को दिए इंटरव्यू में सरवजीत ने बताया कि हर बार जब वह सुनवाई के लिए कोर्ट पहुंचता है तो वो लोग उसका नाम लेकर उसे पुकारते हैं और एक कागज पर अपना नाम लिखने के लिए बोलते हैं. सब जसलीन का इंतजार करते हैं, वो नहीं आती है और अगली सुनवाई के लिए एक और डेट दे दी जाती हैं. ऐसा पिछले 3 सालों से हो रहा है.

जसलीन कनाडा में कर रही है पढ़ाई

सरवजीत ने बताया कि जसलीन के पिता कोर्ट को बताते हैं कि उनकी बेटी विदेश में पढ़ाई कर रही है. वह कनाडा में रहती है. इस बात पर सरवजीत का कहना है कि जसलीन को अपना करियर बनाने का पूरा हक है तो फिर उसे क्यों नहीं. आपको बता दें कि सरवजीत के इस इंटरव्यू के बाद द प्रिंट ने जसलीन और उसके वकील से संपर्क करने की कोशिश की पर कोई फायदा नहीं हुआ. सरवजीत ने इंटरव्यू में बताया कि क्रिमिनल रिकॉर्ड के चलते पिछले तीन सालों से उसे कहीं जॉब नहीं मिल रही है. इस हादसे के तुरंत बाद ही वह जिस कंपनी में काम करता था उसे वहां से निकाल दिया गया था.

सरवजीत ने की मैरिज ब्यूरो में नौकरी

इसके बाद उसने एक मैरिज ब्यूरो में नौकरी शुरू की थी जहां उसे इस क्रिमिनल रिकॉर्ड के चलते पहली सैलरी से 40 फीसदी कम पैसे पर ज्वाइन करना पड़ा था. सरवजीत ने आर्ट्स में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की है और उसके पास एनिमेशन का डिप्लोमा भी है. कुछ महीने बाद ही उसे मैरिज ब्यूरो से भी निकाल दिया गया. इसके बाद उसने एक और कंपनी ज्वाइन की लेकिन कोर्ट में बार बार हाजरी लगाने के चक्कर में वो नौकरी भी छोड़नी पड़ी. सरवजीत ने बताया कि कोर्ट की 13वीं सुनवाई में जज ने उस से कहा था कि अगर जसलीन इसके बाद की सुनवाई में नहीं पहुंचती है तो उसके खिलाफ नॉन बेलेबल वारेंट जारी किया जाएगा और इस केस का फैसला भी सुनाया जाएगा. सरवजीत ने बताया कि वहीं मौजूद एक चश्मदीद विश्वजीत सिंह ने बाद में बताया था कि जसलीन ही सरवजीत को अपशब्द बन रही थी. उसने ही बहस शुरू की थी. सरवजीत बहस करने के लिए माफी मांग रहा था.

फेसबुक पोस्ट के जरिए बयां किया था हादसा

गौरतलब है कि अगस्त 2015 में जसलीन कौर नामक दिल्ली की एक लड़की ने एक फेसबुक पोस्ट शेयर किया था जिसमें उसने बताया था कि कैसे उसके साथ पश्चिम दिल्ली के तिलक नगर ट्रैफिक सिग्नल पर सरवजीत नाम के एक लड़के ने परेशान किया था. जसलीन ने सरवजीत का नाम और तस्वीर लगाते हुए फेसबुक पर लिखा था कि इस लड़के ने रात के करीब 8 बजे दिल्ली के तिलक नगर ट्रैफिक सिग्नल पर उसे अपशब्द कह परेशान किया. जसलीन ने बताया था कि सरवजीत सिल्वर कलर की रॉयल एनफील्ड पर सवार था और उसे गंदे शब्द कह रहा था. जब जसलीन से उस से कहा कि वह उसकी तस्वीर क्लिक करके और गाड़ी का नंबर लिखकर पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ शिकायत कर देगी तो सरवजीत ने कहा था- जो कर सकती है कर ले, शिकायत करके दिखा फिर देख मैं क्या करता हूं.

सड़क पर मौजूद लोगों ने नहीं किया था विरोध

जसलीन ने फेसबुक पर ये भी लिखा था कि वह एक ट्रैफिक सिग्नल था और करीब 20 लोग उस वक्त वहां मौजूद थे लेकिन किसी ने भी सरवजीत को कुछ नहीं कहा. जसलीन ने सरवजीत की तस्वीर और उसके बाइक नंबर के साथ तिलक नगर पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी. जसलीन के इस कदम की कई लोगों ने सराहना की थी. उसका पोस्ट तेजी से वायरल हुआ था. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा ने भी इस मामले में अपनी आवाज उठाई थी. वहीं सरवजीत का कहना है कि उसने ऐसा कुछ नहीं किया अगर उसने कोई गंदा व्यवहार किया होता तो क्या वहां मौजूद लोग उसका विरोध नहीं करते. वह चुपचाप सिग्नल पर खड़ा था जसलीन ने ही उसके साथ बहस की थी और बात कुछ और बनकर लोगों के सामने आ गई.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi