S M L

खूबसूरत लड़कियों को ही यंग अचीवर समझने वाली ऐड एजेंसी को झेलना पड़ा लोगों का गुस्सा

इश्तिहार के कंटेंट की हद तो तब पार हो गई जब उसमें यह साफ-साफ लिखा मिला की रेजिस्ट्रेशन के लिए अल्ट्रा यानी बहुत ही अधिक धनी परिवार के लोग ही एप्लाई करें

Updated On: Jul 26, 2018 05:07 PM IST

FP Staff

0
खूबसूरत लड़कियों को ही यंग अचीवर समझने वाली ऐड एजेंसी को झेलना पड़ा लोगों का गुस्सा

बेंगलुरु स्थित 'यंग अचीवर्स मैट्रीमोनी' नाम की मैट्रीमोनियल एजेंसी, ने वहीं से छपने वाले एक प्रमुख अखबार के पहले पन्ने पर अपना एक इश्तिहार छपवाया. बुधवार को छपे इस इश्तिहार के बाद से एजेंसी को लोगों के गुस्से और आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. सोशल मीडिया पर लोग एजेंसी के इस इश्तिहार की भाषा पर टिप्पणी करते हुए इसे जातिवादी, सेक्सिस्ट, एलीटिस्ट और ना जाने क्या-क्या कह रहे हैं.

क्या है लोगों के गुस्से का कारण?

लोगों के इस गुस्से का कारण बुधवार को छपे यंग अचीवर्स मैट्रीमोनियल एजेंसी के इश्तिहार की भाषा है. जिसमें एजेंसी ने यूथ डे (12 अगस्त) के उपलक्ष्य में प्रदेश के युवाओं को मैट्रीमोनी मीट में शामिल होने के लिए रेजिस्ट्रेशन करवाने की बात कही है. वैसे मैट्रीमोनी मीट से लेकर रेजिस्ट्रेशन कराने तक सबकुछ ठीक था, लेकिन उसके बाद नीचे दी गई अन्य जानकारियों की भाषा ने लोगों को गुस्सा करने पर मजबूर कर दिया.

इश्तिहार में यह लिखा है कि इस मीट में बेस्ट यंग अचीवर्स जैसे आईआईटी, आईआईएम, सी ए, जैसी टॉप यूनिवर्सिटी से पढ़े हुए युवा, आईपीएस, आईएएस, आईआरएस, वैज्ञानिक और सफल उद्यमी शामिल होंगे. वहीं यंग अचीवर्स की कैटेगरी में ही 'खूबसूरत' लड़कियों को भी शामिल किया गया है. लोगों का गुस्सा यहीं से भड़कना शुरू हुआ.

हद तो तब पार हो गई जब इश्तिहार के कंटेंट में यह साफ-साफ लिखा मिला की रेजिस्ट्रेशन के लिए अल्ट्रा यानी बहुत ही अधिक धनी परिवार के लोग ही एप्लाई करें.

लोगों ने इसके बाद ट्वीटर पर इश्तिहार की फोटो शेयर कर के इस ऐड एजेंसी की खूब आलोचना की. जिसके बाद यंग अचीवर्स मैट्रीमोनियल एजेंसी के मालिक श्रीराम ने अपनी गलती कबूल करते हुए लोगों से माफी मांगी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi