S M L

अगर पार्टनर है रोमांटिक तो कंट्रोल में रहेगा ब्लड प्रेशर, सेहत होगी जवां

एक ताजा अध्ययन की मानें तो तनाव के दौरान रोमांटिक पार्टनर को अगर याद किया जाए तो ब्लड प्रेशर (बीपी) को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

Updated On: Jan 24, 2019 10:46 PM IST

FP Staff

0
अगर पार्टनर है रोमांटिक तो कंट्रोल में रहेगा ब्लड प्रेशर, सेहत होगी जवां

लाइफ में अगर रोमांस हो तो जिंदगी खुशनुमा लगती है. वहीं अगर रोमांटिक पार्टनर मिल जाए तो यह हमारी सेहत के लिए भी काफी अच्छा रहता है. एक ताजा अध्यन की मानें तो रोमांटिक पार्टनर के जरिए ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है.

एक ताजा अध्ययन के मुताबिक तनाव के दौरान रोमांटिक पार्टनर को अगर याद किया जाए तो ब्लड प्रेशर (बीपी) को नियंत्रित करने में मदद मिलती है. साथ ही इससे मन को शांत रखने में भी मदद मिलती है. ऐसे में रोमांटिक पार्टनर का सिर्फ ख्‍याल ही दिल के साथ सेहत में भी सुधार ला सकता है.

इस शोध में 102 लोगों का शामिल किया गया था और सब को एक तनावपूर्ण काम करने के लिए कहा गया था. जिसमें उन्हें अपना एक पैर बर्फीले पानी में रखना था. अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना के वैज्ञानिकों ने इस टास्क के पहले और बाद में सभी प्रतिभागियों का ब्लड प्रेशर, दिल की धड़कन में उतार-चढ़ाव का अध्ययन किया.

वहीं जिन प्रतिभागियों की जिंदगी में कोई रोमांटिक पार्टनर है उनको अलग-अलग तरह की तीन परिस्थितियां दी गई. इनमें कुछ लोगों के सामने उनके साथी को चुप बैठे रहने को कहा, कुछ को अपने रोमांटिक पार्टनर के बारे में सोचने को कहा, तो कुछ को उस दिन किए गए कामों के बारे में सोचने को कहा गया.

इस बाद वैज्ञानिकों ने पाया कि जिन लोगों के सामने उनके रोमांटिक पार्टनर मौजूद थे और जिन्होंने अपने पार्टनर के बारे में सोचा था उनका बीपी कम रहा. दूसरी तरफ जिन्होंने अपने दिन में किए कामों के बारे में सोचा उनका बीपी ज्यादा पाया गया. वहीं दिल की धड़कन में उतार-चढ़ाव के मामले में प्रतिभागियों में कोई खास फर्क नहीं रहा. वहीं पहले के अध्ययनों में भी ये बात सामने आ चुकी है कि साथी की उपस्थिति या उसका ख्‍याल तनाव के दौरान व्यक्ति की गतिविधियों पर असर डालता है.

वहीं यूनिवर्सिटी के शोधार्थी और अध्ययन के अगुआ काइले बोरासा का कहना है कि शोध से साफ है कि बीपी के मामले में पार्टनर की मौजूदगी और उसका ख्‍याल दोनों समान रूप से प्रभावी हैं. उन्होंने कहा कि इस अध्ययन से कुछ हद तक यह भी समझने में मदद मिली है कि अपने पार्टनर से बेहतर रोमांटिक संबंध सेहत पर कैसे सकारात्मक असर डालता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi