S M L

भारत में गरीब और गरीब हो रहे हैं, अमीरों की है मौज: ऑक्सफेम

देश के कुल सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 15 प्रतिशत हिस्सा भारतीय अरबपतियों के खाते में है

Updated On: Feb 22, 2018 09:48 PM IST

Bhasha

0
भारत में गरीब और गरीब हो रहे हैं, अमीरों की है मौज: ऑक्सफेम

गैर सरकारी संगठन ऑक्सफेम ने एक रपट में आज कहा कि भारत में असमानता बीते तीन दशकों से बढ़ रही है और हालत यह है कि देश के कुल सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 15 प्रतिशत हिस्सा भारतीय अरबपतियों के खाते में है. रपट में इन हालात के लिए सरकारों की असंतुलित नीतियों को जिम्मेदार बताया है.

इसें कहा गया है कि भारत में धनाढ्यों ने देश में सृजित संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा ‘सांठ गांठ वाले पूंजीवाद’ या ‘बपौती’ में हासिल किया है. वहीं आय पिरामिड के नीचे के तबके का आय में हिस्सा लगातार कम होता जा रहा है.

ऑक्सफेम इंडिया ने जारी किया है रिपोर्ट 

ऑक्सफेम इंडिया की सीईओ निशा अग्रवाल ने कहा,‘ये असमानताएं 1991 के बहुप्रचारित उदारीकरण के दौरान अपनाए गए सुधार पैकेजों तथा उसके बाद अपनाई गई नीतियों का परिणाम हैं.’

रपट में कहा गया है कि ताजा अनुमानों के अनुसार भारतीय अरबपतियों की कुल संपत्ति देश की जीडीपी के 15 प्रतिशत के बराबर है. यह केवल पांच साल पहले ही जीडीपी के 10 प्रतिशत के बराबर थी.

इसके अनुसार 2017 में भारत में 101 अरबपति थे जिनकी हैसियत 65 अरब रुपए या उससे अधिक है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi